दैनिक भास्कर हिंदी: गिरीष महाजन और सुभाष देशमुख को बाढ़ प्रभावितों ने घेरा, पूछे यह सवाल

August 9th, 2019

डिजिटल डेस्क, पुणे। राज्य के जलसंपदा मंत्री गिरीष महाजन और सांगली जिले के अभिभावक मंत्री सुभाष देशमुख शुक्रवार को बाढ़ की स्थिति का जायजा लेने के लिए सांगली पहुंचे, उस समय लोगाें ने उन्हें घेरकर पूछा कि चार दिन कहां थे। प्रशासन की मदद मिलने में इतनी देर क्यों हुई, यह सवाल पूछे। दोनों को लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ा। पिछले कुछ दिनों से जारी मुसलाधार बारिश के कारण सांगली, कोल्हापुर में भयंकर बाढ़ आई हुई है। कई लोग पानी में फंसे हुए हैं, इसके बावजूद लोगों तक मदद पहुंचने में प्रशासन की देर हो रही है। नौकाओं की संख्या कम है। प्रशासन की धीमे गति से चल रही मदद को देख लोग गुस्से में हैं। इसी गुस्से ने रौद्र रूप ही धारण कर लिया। जब महाजन और देशमुख बाढ़ प्रभावित क्षेत्र पहुंचे तब लोगों ने उन्हें घेर कर उन पर सवालों की बौछार की। नौकाओं की संख्या कम होने के कारण हजारों लोग अभी तक फंसे हुए हैं, यह आरोप लगाकर लोगों ने कहा कि आप यात्रा निकाल रहे हैं, हमें किसी की भी मदद नहीं चाहिए, हम सक्षम हैं। 

महाजन ने निकाली हंसकर सेल्फी

बाढ़ की इतनी गंभीर स्थिति में किसी के भी आंखों से आएं, तो आंसू आएंगे। लेकिन चेहरे पर हंसी कतई नहीं आएगी। लेकिन इसे जलसंपदा मंत्री महाजन अपवाद साबित हुए हैं। गुरूवार को महाजन नौका से कोल्हापुर की बाढ़ स्थिति का जायजा ले रहे थे। उस समय एक कार्यकर्ता मोबाइल पर वीडिओ निकाल रहा था। जब महाजन को यह पता चला, तब वे मोबाईल की ओर देखकर हंसकर हाथ दिखाने लगे। महाजन की इस असंवेदनशीलता पर सभी स्तर से कड़ी टिप्पणियां होने लगी है। 
 

खबरें और भी हैं...