comScore

 पूर्व सीएम कमलनाथ ने मेडिकल कॉलेज को दान में दी 6 करोड़ की एमआरआई मशीन

 पूर्व सीएम कमलनाथ ने मेडिकल कॉलेज को दान में दी 6 करोड़ की एमआरआई मशीन

डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा ।  छिंदवाड़ा को निरंतर दी जा रही सुविधाओं के बीच मेडिकल कॉलेज की स्थापना के बाद यहां एक एमआरआई मशीन की आवश्यकता महसूस की। मेडिकल कॉलेज प्रबंधन ने उक्त संदर्भ में कमलनाथ से चर्चा एवं पत्राचार किया। इस महती आवश्यकता पर ध्यान देते हुए सांसद नकुलनाथ के पिता पूर्व केंद्रीय मंत्री, पूर्व मुख्यमंत्री व छिंदवाड़ा के विधायक कमलनाथ ने अपने पिता स्व. महेन्द्र नाथ के नाम से संचालित ट्रस्ट द्वारा मेडिकल कॉलेज को लगभग 6 करोड़ रुपए की एमआरआई मशीन दान की है। यह मशीन छिंदवाड़ा मेडिकल कॉलेज में स्थापित की जा रही है।
जिले को अब तक मिली स्वास्थ्य सेवाएं
सन 1980 में छिंदवाड़ा जिले की कमान संभालने के बाद सांसद कमलनाथ ने पहले स्वास्थ्य, शिक्षा व सिंचाई की सुविधाओं में विस्तार करने पर जोर दिया। चिकित्सा के क्षेत्र में जिला चिकित्सालय के अलावा ब्लॉक स्तर पर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र हुआ करते थे बाद में श्री नाथ ने केन्द्रीय अनुदान से जिले में  स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार कराया। वर्तमान में संपूर्ण जिले में ब्लॉकवार सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र संचालित हंै। एक सक्षम जिला चिकित्सालय के अलावा अब छिंदवाड़ा के पास मेडिकल कॉलेज भी है। 1455 करोड़ 33 लाख की लागत से निर्मित होने वाले इस मेडिकल कॉलेज में 1250 बैड का एक सुपर स्पेशिलिटी ब्लॉक भी होगा। 
पूर्व में भी दिया है ब्लड बैंक के लिए दान
कमलनाथ स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए दान का यह पहला मौका नहीं है।  जिला चिकित्सालय में प्रतिदिन गंभीर मरीजों को ब्लड की आवश्यकता को देखते हुए ब्लड को संग्रहित व सुरक्षित रखने के उपकरणों का अभाव था। तब सांसद कमलनाथ ने अपने पिता स्व. महेन्द्र नाथ के नाम से छिंदवाड़ा जिला चिकित्सालय में ब्लड बैंक की स्थापना हेतु व्यक्तिगत तौर पर 50 लाख रुपए का दान दिया था। छिंदवाड़ा में  आयोजित रोटरी क्लब के स्वास्थ्य शिविर में यह राशि दान दी गई थी।
क्यों जरूरी है एमआरआई मशीन
एमआरआई मशीन यानी मैगनेटिक रेसोनेंस इमेजिंग मशीन से शरीर की आंतरिक संरचना जैसे मस्तिष्क हड्डियां मांसपेशियां, छाती, टिशू ट्यूमर, कैंसर, स्ट्रोक, डिमेंशिया, माइग्रेन, धमनियों के ब्लॉक सहित अन्य गूढ़ व गंभीर बीमारियों का पता लगाया जा सकता है। उक्त मशीन छिंदवाड़ा सहित आसपास जिलों में नहीं है। आवश्यकता को महसूस कर श्री नाथ ने 6 करोड़ की मशीन उपलब्ध कराई है। जिसका लाभ छिंदवाड़ा समेत आसपास जिलों के मरीजों को भी मिल सकेगा।
 

कमेंट करें
RPl25