comScore

बजाज फायनेंस कंपनी के नाम पर धोखाधड़ी , महिला समेत तीन लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज

बजाज फायनेंस कंपनी के नाम पर धोखाधड़ी , महिला समेत तीन लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज

डिजिटल डेस्क , नागपुर। बजाज फायनेंस कंपनी के नाम पर एक व्यक्ति से धोखाधड़ी की गई है। लोन देने का झांसा देकर उससे रुपए ऐंठ लिए गए हैं। घटित प्रकरण के उजागर होने से मंगलवार को महिला समेत तीन लोगों के खिलाफ धंतोली थाने में प्रकरण दर्ज किया गया है। घटित प्रकरण से पुलिस को आरोपियों के अंतरराज्यीय स्तर पर धोखाधड़ी में लिप्त होने की आशंका है। उन्हें जल्दी गिरफ्तार करने का दावा किया गया है।

जानकारी के अनुसार अजनी चौक के पास समर्थ नगर निवासी जयंत देशपांडे (66) वर्ष सीमेंट कंपनी से सेवानिवृत्त हुए हैं। उनके बेटे की छोटी सी स्टेशनरी की दुकान है। जयंत बेटे की दुकान को बढ़ाना चाहते थे। इसके लिए उन्हें कुछ रुपये की जरुरत थी। इस बीच 22 नवंबर 2019 से 13 जनवरी 2020 के दरमियान जयंत को निकीता जाधव,अमोल पवार और गणेश नामक व्यक्तियों के फोन आए। इन लोगों ने जयंत को बताया था कि वह बजाज फायनेंस के मुंबई स्थित मुख्यालय से बोल रहे हैं। जयंत को उद्योग धंधे के लिए लोन देने की हामी भरी थी। वैसे भी जयंत को रुपए की जरुरत थी ही,लिहाजा वह साढ़े तीन लाख रुपए का लोन लेने के लिए तैयार हो गया। इसके बाद लोन के लिए विविध शुल्क भरने का झांसा देकर जयंत से 1 लाख 40 हजार रुपए ऐंठ लिए । इसके बाद भी रुपए की मांग की गई थी,मगर जयंत को संदेह हुआ। जिससे उसने और रुपए देने से मना किया ।

दर्ज शिकायत में जयंत ने बताया कि वह प्रत्यक्ष रुप से कभी आरोपी निकीता,अमोल या गणेश से  वह मिला नहीं है। उनकी फोन पर ही बात होते रहती थी। लेन-देन भी आन लाइन ही हुआ है। घटित प्रकरण से जयंत ने बजाज फायनेंस के दफ्तर में पूछताछ कर सच्चाई जाननी चाही ,मगर वहां से भी उन्हें कोई संतोष जनक जवाब नहीं दिया गया है। जिससे प्रकरण थाने पहुंचा। घटित प्रकरण से पुलिस निरीक्षक पाटील से आशंका व्यक्त की है कि,आरोपी धोखाधड़ी में सक्रिय गिरोह के सदस्य हो सकते हैं। बरामद मोबाइल नंबरों के आधार पर साइबर सेल की मदद से उन्हें जल्द गिरफ्तार करने का दावा किया गया है। 

कमेंट करें
cvUu9