कृषि कार्यक्रम: विदर्भ के फलों की अंतरराष्ट्रीय बाजार में अच्छी मांग हैं

October 10th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। किसानों के कृषि माल को अच्छा दाम मिलने के लिए   कृषि माल का गुणात्मक उत्पादन, प्रोसेसिंग, पैकेजिंग व अंतरराष्ट्रीय मार्केट में उसका विपणन होना जरूरी है। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितीन गडकरी एक होटल में हुए  ‘विदर्भ के कृषि माल सब्जी की निर्यात क्षमता’   पर आधारित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। इस दौरान  अ‍पेडा के अध्यक्ष डॉ.  एम अंगामुथू, आदिवासी विकास विभाग के अपर आयुक्त रवींद्र ठाकरे,  एग्रोविजन फाउंडेशन सलाहकार मंडल के अध्यक्ष डॉ. सी. डी. मायी, रवि बोरटकर व रमेश मानकर आदि उपस्थित थे। 

निर्यात करने पर अच्छा लाभ मिलेगा

गडकरी ने कहा कि विदर्भ में होने वाले संतरा-मौसंबी, नींबू, बेर, सीताफल की अंतरराष्ट्रीय मार्केट में अच्छी मांग है। टेबल फ्रूट के रूप में अंतरराष्ट्रीय मार्केट में निर्यात करने पर यहां के किसानों को अच्छा  लाभ मिलेगा। जवाहरलाल  नेहरू पोर्ट- जेएनपीटी द्वारा वर्धा के सिंदी ड्रायपोर्ट  से भी  वातानुकूलित  फूड कंटेनर में संतरा सीधे बांगलादेश के मार्केट में निर्यात करने का प्रयास है। विदर्भ के मालगुजारी तालाब व तालाब के झींगे की पैकेजिंग व प्रोसेसिंग किया गया, तो ढीमर  समाज को बड़े पैमाने पर रोजगार मिलेगा। उन्होंने निर्यात का प्रस्ताव पेश करने को कहा।