दैनिक भास्कर हिंदी: व्हील नहीं घूमने से घिसट रही थी ट्रेन की बोगी, सतर्कता से बड़ा हादसा टला

January 10th, 2018

डिजिटल डेस्क छिन्दवाड़ा/पाढुर्ना । मंगलवार की सुबह तीगांव रेल्वे स्टेशन के उपस्टेशन प्रबंधक की सतर्कता से बड़ा ट्रेन हादसा टल गया। बताया जा रहा है कि गोरखपुर से यशवंतपुर की ओर जा रही ट्रेन क्रमांक 15015 एक्सप्रेस की 11 नंबर बोगी का व्हील घूम नही पा रहा था। व्हील नही घूमने से यह पटरी पर घिसता रहा, जिससे चिंगारी निकलती रही और व्हील गर्म होता रहा। उपस्टेशन प्रबंधक ने स्टेशन के सामने से गुजर रही एक्सप्रेस में यह नजारा देखा और तत्काल ट्रेन स्टाफ को सूचना दी। सूचना मिलते ही ट्रेन रोकी गई। जिसमें से 11 नंबर बोगी को अलग कर शेष बोगियों को गंतव्य की ओर रवाना किया गया।
करीब तीन घंटे चला रेस्क्यू: गोरखपुर से यशवंतपुर एक्सप्रेस क्रमांक 15015 करीब 11 बजे तीगांव रेल्वे स्टेशन से गुजर रही थी। इस दौरान ड्यूटी पर तैनात उपस्टेशन प्रबंधक विदेश कुमार चौहान झंडी दिखाते हुए एक्सप्रेस को पास कर रहे थे। इस दौरान उन्हें ट्रेन के बोगी नंबर 11 में व्हील नही घूमने से चिंगारी निकलती दिखी। स्थिति को भांपते हुए विदेश कुमार ने तत्काल लोको पायलटों को सूचित किया। जिसके बाद 11.10 बजे ट्रेन लूप लाईन पर रोक दी गई। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद क्षतिग्रस्त बोगी को ट्रेन से अलग किया और ट्रेन करीब 13.55 बजे गंतव्य ओर निकली। व्यवस्था बनाने के लिए 11 नंबर बोगी के मुसाफिरों को ट्रेन की अन्य बोगियों में शिफ्ट कराया गया।
पटरी से उतर सकती थी ट्रेन: घटना की स्थिति को भांपकर तत्काल रेस्क्यू अभियान चलाकर और करीब तीन घंटे की मशक्कत करते हुए रेल अधिकारी-कर्मचारियों ने क्षतिग्रस्त बोगी को निकालकर अलग किया और ट्रेन आगे रवाना की। जिसके बाद ही सभी ने राहत की सांस ली। अब क्षतिग्रस्त बोगी का तीगांव स्टेशन के पास ही सुधार कार्य होगा। उपस्टेशन प्रबंधक विदेश कुमार चौहान ने बताया कि यदि स्थिति सामने नही आती तो रफ्तार में रहने के दौरान ट्रेन के पटरी से उतरने की स्थिति बन सकती थी। पर समय रहते तत्काल स्थिति पर काबू पा लिया गया। स्थानीय अधिकारियों ने घटना की सूचना नागपुर डिवीजन कार्यालय में भी दी। सूचना मिलते ही सभी अधिकारी-कर्मचारी हरकत में आ गए।
ईटारसी के बाद नागपुर रूकती है एक्सप्रेस: जिस एक्सप्रेस ट्रेन में यह हादसा हुआ, वह ट्रेन ईटारसी स्टेशन से निकलने के बाद सीधे नागपुर स्टेशन पर ही रूकती है। पांढुर्ना स्टेशन पर भी इस एक्सप्रेस ट्रेन का हाल्ट नही है। हादसे की सुगबुगाहट के चलते ट्रेन के तीगांव रेल्वे स्टेशन पर रूकने के बाद उसमें सवार मुसाफिर सकते में आ गए ट्रेन रूकते ही मुसाफिर नीचे उतरकर स्थिति का जायजा लेने लगे। इस दौरान स्टेशन पर मुसाफिरों का जमघट लगा रहा। रेल अधिकारियों ने भी हादसे के सुगबुगाहट के चलते मुसाफिरों को हुई परेशानी पर खेद जताया।