दैनिक भास्कर हिंदी: कोल्हापुर-सांगली डूबने के लिए सरकार जिम्मेदार: आंबेडकर

August 12th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। वंचित बहुजन आघाडी के प्रमुख प्रकाश आंबेडकर ने कोल्हापुर और सांगली में बाढ़ की स्थिति के लिए राज्य सरकार को जिम्मेदार बताया है। उन्होंने कहा कि सरकार की नाकामी के कारण कोल्हापुर और सांगली के लाखों लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। बाढ़ प्रभावित इलाकों के लोग ही अब सरकार को सबक सिखाएंगे। सोमवार को दादर में स्थित आंबेडकर भवन में पत्रकारों से बातचीत में आंबेडकर ने सरकार से बांधों के पानी को छोड़ने संबंधी नियंत्रण के लिए कंट्रोल रूम बनाने की मांग की।

उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार को कर्नाटक, तेलंगाना और आंध्रप्रदेश सरकार से बातचीत करके कंट्रोल रूम बनाना चाहिए, क्योंकि गोदावरी नदी के आसपास वाले सभी बांध 100 फीसदी भर गए हैं। इसके अलावा राज्य की कृष्णा और पंचगगा समेत दूसरी नदियों में बाढ़ की स्थिति है। इसलिए सरकार को अगले दस दिनों की मौसम की स्थिति की जानकारी लेकर उचित प्रबंध करना चाहिए। बारिश आने की स्थिति में बांध के दरवाजे खोलने पड़ेंगे। इसके लिए पड़ोसी राज्यों से सरकार को पहले ही चर्चा करनी चाहिए। आंबेडकर ने कहा कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस यदि कोल्हापुर में ठहरकर राहत और बचाव काम पर निगराने रखते तो बड़े पैमाने पर लोगों को मदद मिल सकती थी। आंबेडकर ने आरोप लगाया कि सरकार ने बाढ़ प्रभावितों को अनाज पहुंचाने के लिए हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल नहीं किया केवल मंत्रियों के आने-जाने के लिए हेलीकॉप्टर का उपयोग किया गया। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से बाढ़ प्रभावितों के लिए अब तक पानी, अनाज, दवाइयां, पीने के पानी की बोतलें नहीं पहुंचाई गई है। बाढ़ के कारण लगभग 70 हजार लोग बेघर हो गए हैं।