दैनिक भास्कर हिंदी: हाथियों ने दो ग्रामीणों को कुचला, एक की मौके, एक गंभीर

September 5th, 2018

डिजिटल डेस्क, शहडोल। शहडोल वन वृत्त क्षेत्र ब्यौहारी के बुढ़वा और सतनी गांव में हाथियों ने आतंक मचा रखा है, जिसकी वजह से लोगों के बीच खौफ का माहौल है। गांव में घुसकर हाथियों ने कई घरों को गिरा दिया तथा घर छोड़कर भाग रहे चाचा भतीजों को बुरी तरह कुचल दिया, जिससे चाचा की स्थल मर ही मौत हो गई और भतीजा जीवन मौत से संघर्ष कर रहा है। साथ ही दुकानों को भी तहस-नहस कर दिया है। वहीं बुधवार तड़के 4 बजे हाथियों ने एक ग्रमीण को कुचल दिया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई तथा दूसरा अन्य घायल हो गया। हालांकि मौके पर पहुंचे वन अमले ने हाथियों को गांव से दूर भगा दिया है।

दरअसल हाथियों का एक झुंड ब्यौहारी पूर्व रेंज के बुढ़वा और गजदहाव सतनी गांव में पिछले 4 दिनों से उत्पात मचा रहा है। हाथियों के झुंड ने चार घरों को तोड़ दिया और एक दुकान का सामान भी तहस नहस कर दिया। वहीं हाथियों के आतंक की सूचना मिलते ही वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और हाथियों को वापस जंगल में भगाया गया। इसके साथ ही रेंज ऑफिसर अमले के साथ गांव पर ही डटे रहे ताकि हाथी फिर से गांव में न घुस सकें।

वहीं हाथी के कुचलने से सहदेव सिंह उर्फ मजिस्ट्रेट सिंह निवासी सतनी की घटना स्थल पर मौत हो गई एवं उनके भतीजे रिंकू सिंह की गंभीर घायल है जिनको रीवा संजय गांधी हॉस्पिटल रेफर किया है। बताया जा रहा है कि उनका हाथ, पैर, पसलिया पूरी तरह से टूट गई हैं। अभी भी स्थिति गंभीर बनी हुई है सहदेव सिंह की मौत मैं लोगों आक्रोश है। इसको देखते हुए पुलिस प्रशासन जिस स्थान पर उनका पोस्टमार्टम किया गया वहां बाणसागर देव लोन हॉस्पिटल में भारी पुलिस बल लगाया गया है तथा स्ष्ठरू व्यवहारी भी मौके स्थल पर मौजूद हैं। वन विभाग द्वारा मृत व्यक्ति के परिवार को 4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता उप्लब्ध कराई है। डीएफओ नार्थ देवन्शु शेखर स्वयं राशि का चेक लेकर पहुचे थे। उन्होने यह भी कहा है कि बहुत जल्द इन हाथी के झुंड को बांधवगढ़ नेशनल पार्क शिफ्ट किया जाएगा।