दस रुपए के लिए बुजुर्ग की हत्या: इतवारी जीआरपी ने आरोपी को किया गिरफ्तार

May 23rd, 2022

डिजिटल डेस्क, छिंदवाड़ा। छिंदवाड़ा से इतवारी के लिए चलने वाली ट्रेन में महज दस रुपए के लिए एक बदमाश ने बुजुर्ग पर ब्लेड से हमला कर दिया था। पेट में ब्लेड से इतना गहरा घाव लगा था कि बुजुर्ग की आंतें बाहर आ गई थी। 13 मई को बुजुर्ग खून से लथपथ हालत में इतवारी रेलवे स्टेशन में मिला था। इलाज के दौरान रविवार को उसकी मौत हो गई। इतवारी जीआरपी ने मामले की जांच के दौरान एक आरोपी को दबोचा। जिसने बुजुर्ग पर हमला करना कबूल लिया है। हालांकि अभी तक मृतक की शिनाख्त नहीं हो पाई है।

इतवारी जीआरपी में पदस्थ प्रधान आरक्षक गजेन्द्र बारमोड़े 13 मई की दोपहर छिंदवाड़ा-इतवारी पैसेंजर ट्रेन स्टेशन पर खड़ी थी। इस दौरान नागपुर कलमना निवासी सुनिल पिता बालकृष्ण राउत ट्रेन में चढ़ा और बोगी में बैठे लगभग 70 वर्षीय बुजुर्ग से नाश्ते के लिए दस रुपए मांगे। बुजुर्ग ने रुपए देने से इनकार कर दिया। इस बात पर विवाद करते हुए सुनील ने बुजुर्ग पर ब्लेड से हमला कर दिया। ब्लेड के वार से बुजुर्ग के पेट से आंतें बाहर आ गई थी। बुजुर्ग को गंभीर अवस्था में मेयो अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान रविवार को बुजुर्ग की मौत हो गई। पुलिस ने आरोपी सुनील को गिरफ्तार कर लिया है।

मृतक के परिजनों की तलाश में छिंदवाड़ा पहुंची टीम-

मृतक की शिनाख्त अभी तक नहीं हो पाई है। इतवारी जीआरपी टीम बुजुर्ग के परिजनों की तलाश में रविवार को छिंदवाड़ा पहुंची थी। स्थानीय टीम की मदद से जीआरपी की टीम मृतक के परिजनों की पताशाजी कर रही है।
 

खबरें और भी हैं...