comScore

जबलपुर : बहुमंजिला इमारत में लगी आग, 200 लोगों की जान संकट में फंसी 

जबलपुर : बहुमंजिला इमारत में लगी आग, 200 लोगों की जान संकट में फंसी 

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। यहां एक रिहायशी बहुमंजिली इमारत के मीटर रूम में आग भड़क जाने से इमारत में रहने वाले लगभग दो सौ लोगों की जान संकट में फंस गई। बिजली के मीटरों तथा केबिल में आग भड़कने से चारों तरफ जहरीला धुंआ भर गया और पूरी बिल्डिंग में अफरा तफरी मच गई। मीटर जल जाने के कारण बिजली गुल हो गई, जिससे लिफ्ट बंद हो गई और नीचे पहुंचने के एक मात्र रास्ता सीढ़ियों पर जहरीला धुआं भरा होने के कारण लोग बीच में ही फंस गए। ऊपर छत पर भागकर पनाह लेना चाहा तो ऊपर जाने के रास्त पर भी ताला लगा हुआ था। ऐसी विषम परिस्थिति में लोगों में चीख पुकार मच गई और लोग अपने रिश्तेदारों को फोन कर मदद मांगने लगे। किसी तरह फायर बिग्रेड को सूचना दी गई जिससे दो घंटे में आग पर काबू पाया गया और लोंगों ने राहत की सांस ली।

सुबह की है घटना 
आनंद टॉकीज रोड स्थित कचनार संभार में उस वक्त दहशत और अफरा-तफरी मच गई, जब वहां मीटर बोर्ड में अचानक आग भड़क गई। चंद पलों में पूरी पार्किंग धुंआ-धुंआ हो गई। मीटर फटने के कारण हुए धमाकों से वहां के रहवासी दहल गए। सभी अपने-अपने घरों से बाहर निकल आए। सूचना मिलते ही फायर बिग्रेड वहां पहुंची। लगभग आधे घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। घटना में जान माल का नुकसान नहीं हुआ है। जानकारी के अनुसार सुबह लगभग सवा दस बजे कचनार संभार की पार्किंग में लगे मीटर बोर्ड में शार्ट सर्किट हुआ। इस कारण तारों में आग लगी और धीरे-धीरे कर इस आग ने वहां लगे सभी मीटरों को अपनी चपेट में ले लिया। तारों के जलने के कारण पूरी पार्किंग में धुंआ-धुंआ हो गया। वहां रहने वाले कृष्णराज गिरजापुरकर ने घटना की जानकारी फायर बिग्रेड को दी। सूचना मिलते ही वाहन वहां पहुंचा। लगभग आधे घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका।

नहीं था अग्निशमन यंत्र
फायर बिग्रेड से मिली जानकारी के इस बिल्डिंग में 70 परिवार निवास करते हैं। सुबह के वक्त किसी ने एक मीटर में स्पार्किंग देखी, इसी स्पार्किंग ने आग का रूप लिया। आश्चर्य की बात तो यह है कि पूरी की पूरी बिल्डिंग में एक भी अग्निशमन यंत्र नहीं है। यदि ऐसा होता, तो संभवत: आग को इतना बड़ा रूप लेने से बचाया जा सकता था।

तो हो सकता था बड़ा हादसा
मीटर पार्किंग में लगे हैं। पार्किंग में सुबह के वक्त सैकड़ों दुपहिया और दर्जनों चार पहिया वाहन खड़े थे। वो तो गनीमत थी कि आग उन वाहनों तक नहीं पहुंची, वरना हादसा और बड़ा हो सकता था।

इनका कहना है
मौके पर गए थे, मीटर बोर्ड बनने के बाद ही मीटर लगाए जा सकते हैं। सोसायटी उसे बनवा रही है। जितनी जल्दी होगा मीटर लगाए जाएंगे।
आईके त्रिपाठी, अधीक्षण अभियंता, सिटी सर्किल

कमेंट करें
tkCBD