comScore

तीन दिनों तक चला गुरुबानी कीर्तन व प्रवचन से संगत निहाल, लंगर प्रसाद 

तीन दिनों तक चला गुरुबानी कीर्तन व प्रवचन से संगत निहाल, लंगर प्रसाद 

डिजिटल डेस्क,नागपुर। सिख धर्म के चौथे गुरु श्री गुरु रामदासजी का प्रकाश पूरब धूमधाम से मनाया गया। रामदासपेठ स्थित गुरु रामदास गुरुद्वारा में शहर की सभी गुरुद्वारा कमेटियों के सहयोग से तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया।  मंगलवार को मुख्य कार्यक्रम के साथ प्रकाश पूरब का समापन हुआ। सुबह-शाम अमृतसर से पधारे कीर्तनकार जगतारसिंग ने गुरबानी कीर्तन तथा पटियाला से आए कथाकार हनुमंत सिंह ने अपने कीर्तन व प्रवचनों से संगत को निहाल कर दिया। गुरु रामदास ने समाज को मानवता का संदेश दिया था। मंगलवार को सभी धर्म के लोगों ने पहुंचकर कीर्तन व प्रवचन का लाभ लिया व आशीर्वाद प्राप्त किया। प्रकाश पूरब के अवसर पर रविवार से अटूट लंगर का भी आयोजन किया गया। प्रकाश पूरब के आयोजन के लिए धर्म-अर्थ ट्रस्ट के सभी पदाधिकारी व सदस्यों ने प्रयास किए।

खामला के सिंधी कालोनी में कथा-कीर्तन

गुरु रामदास के प्रकाश पूरब पर   खामला सिंधी कॉलोनी स्थित गुरुसंगत दरबार में अमृतवेला परिवार की ओर से धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। कथा-कीर्तन उपरांत अमृतवेला ट्रस्ट के भाई रिंकुवीर ने कहा कि  गुरु रामदास के दर जैसा कोई दर नहीं है। गुरु महाराज से सर्वत्र सुख-शांति की अरदास की गयी। पश्चात प्रसाद वितरित किया गया। परिवार के हरिराम भाग्या, सचिन करमचंदानी, सुरेश हेमनानी, कमल धामेचा, अमित मोरजानी, दीपक संगतानी, कार्तिक साधवानी, श्याम करमचंदानी, मुकेश भोजवानी, करण चंदवानी, जिया साधवानी, हर्षल करमचंदानी, हर्षा साधवानी, महक लक्षवानी, वर्षा लक्षवानी, मुन्नी छतानी, ममता चेतवानी, मोना पंजवानी, भावना थदानी, लता भाग्या सहित संगत की मौजूदगी रही।

माणिपुरा चौक में शारदा माता की स्थापना

शारदा उत्सव मंडल की ओर से माणिपुरा चौक, गंगाबाई घाट रोड में शारदा माता की स्थापना की गई। शारदोत्सव दरम्यान भजन, संगीत आदि का आयोजन होगा। आयोजन की सफलतार्थ सारंग मोहुर्ले, पराग निकोडे, पवन समर्थ, कुंदन नारनवरे, मोनाली मोहुर्ले, अमन शाहू, रोहन मोहुर्णे, रूपेश डेडूमल, निलेश बारेकर, हिमांशु निकोडे आदि प्रयासरत हैं।

कमेंट करें
xV6RC