दैनिक भास्कर हिंदी: एलआईसी : आरटीआई में भी नहीं बता रहे कैसे लौटाएंगे पॉलिसी धारकों का पैसा

February 19th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) में आम लोग 10, 15 और 20 साल की पॉलिसी निकालते हैं। ऐसे में पॉलिसी पूरी होने के बाद कई सारे लोग दस्तावेज के अभाव अथवा त्रुटियों के कारण क्लेम नहीं कर पाते हैं। वर्तमान में एलआईसी के पास हजारों करोड़ रुपए की राशि पड़ी है। विशेष बात यह है कि एलआईसी न तो यह बताने के लिए तैयार है कि उनके पास अनक्लेम्ड कितनी राशि है और न ही उस राशि को लौटाने के बारे में कोई जानकारी दी जा रही है। नागपुर के संदर्भ में भी संबंधित कोई उचित जानकारी नहीं मिल पाई है। वर्तमान में एलआईसी की 28.21 करोड़ पॉलिसी है।

4 सवालों के जवाब नहीं मिले:

जानकारी के अनुसार, एलआईसी के अनक्लेम्ड राशि के फंड में 13843 करोड़ रुपए बकाया है। यह राशि सिर्फ 2019-20 वित्तीय वर्ष की क्लोजिंग बैलेंस की है। हम यदि पिछले साल की बात करें तो 10509 करोड़ रुपए क्लोजिंग बैलेंस की राशि में बकाया थे। पॉलिसीधारकों के लिए सबसे बड़ी परेशानी यह बनी हुई है कि उनके दस्तावेज खो जाने पर उनको 500 रुपए के स्टैंप पर लिखकर देना पड़ता है, ऐसे में उनको अतिरिक्त खर्च उठाना पड़ता है, जबकि यह राशि उनके सीधे खाते में जाना चाहिए। मामले को लेकर एलआईसी से सूचना के अधिकार के तहत 5 बिन्दुओं में जानकारी मांगी गई, लेकिन आरटीआई में सिर्फ यह बताया गया कि उनकी 28.21 करोड़ पॉलिसी है, शेष 4 सवालों का जवाब नहीं दिया गया। यह जानकारी सूचना के अधिकार के तहत संजय थूल ने मांगी थी।

यह सवाल पूछे गए थे:

  • एलआईसी पॉलिसीधारकों की कुल राशि और अनक्लेम्ड राशि कितनी है ?
  • कुल अनक्लेम्ड राशि कितनी है, जिसे पिछले पांच सालों में लौटाया गया है, वर्षवार तरीके से बताएं ?
  • वर्तमान में एलआईसी में कितनी पॉलिसियां हैं ? सिर्फ इसका जबाव 28.21 करोड़ पॉलिसी बताया गया।
  • पिछले पांच सालों में कितनी पॉलिसियां लैप्स हो गई हैं, फीसदी में बताएं ?
  • एलआईसी द्वारा पॉलिसी धारकों को अनक्लेम्ड राशि लौटाने के लिए क्या प्रयास किए ?

खबरें और भी हैं...