comScore

लोकसभा चुनाव : 227 विधानसभा सीटों पर भाजपा-शिवसेना का कब्जा

लोकसभा चुनाव : 227 विधानसभा सीटों पर भाजपा-शिवसेना का कब्जा

डिजिटल डेस्क, मुंबई। लोकसभा चुनाव में भाजपा को प्रदेश के 127 विधानसभा क्षेत्रों में बढ़त मिली है जबकि सहयोगी दल शिवसेना 100 विधानसभा सीटों पर आगे है। वहीं कांग्रेस को महज 23 और राष्ट्रवादी कांग्रेस को 28 विधानसभा सीटों पर लीड मिल सकी है। कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस के सहयोगी दलों को 10 विधानसभा सीटल पर बढ़त मिली है। चुनाव आयोग से मिले आंकड़ों के अनुसार लोकसभा चुनाव की तरह यदि प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में वोटिंग हुई तो भाजपा-शिवसेना युति को विधानसभा की 227 सीटें मिलने के आसार हैं, जबकि कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस विधानसभा की 51 सीटों पर सिमट कर रह जाएगी। छोटे दलों की झोली में विधानसभा की 10 सीटें जा सकती हैं। लोकसभा चुनाव परिणाम के अनुसार प्रदेश के सभी अंचलों में भाजपा-शिवसेना युति कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस की महायुति पर भारी पड़ती नजर आ रही है। 

विदर्भ की 50 सीटों पर भाजपा-शिवसेना को बढ़त

विदर्भ की 60 विधानसभा सीटों में से भाजपा को 30 और शिवसेना को 20 सीटों पर लीड मिली है। जबकि कांग्रेस को 6 और राष्ट्रवादी कांग्रेस को 4 सीटों पर बढ़त मिली है। राष्ट्रवादी कांग्रेस की बढ़त वाली सीटों में निर्दलीय सांसद नवनीत राणा के अमरावती सीट के उन विधानसभा क्षेत्रों का भी सामवेश है जिनमें नवनीत को बढ़त मिली है।

मराठवाडाः 48 में से 51 पर युति  

मराठवाड़ा की 48 विधानसभा सीटों में से  भाजपा 21, शिवसेना 20, तीन पर कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस 2 सीटों पर आगे हैं। औरंगाबाद लोकसभा सीट की 2 विधानसभा सीटों पर एमआईएम को बढ़त मिली है। राज्य में भाजपा सबसे ताकतवर उत्तर महाराष्ट्र में नजर आ रही है। उत्तर महाराष्ट्र की 48 सीटों में से भाजपा को 36, शिवसेना को 5, कांग्रेस को 6 और राष्ट्रवादी कांग्रेस को 1 सीट पर बढ़त है। 

पश्चिम महाराष्ट्र नहीं रहा राकांपा का गढ

लोकसभा चुनाव परिणाम देखे तो पश्चिम महाराष्ट्र अब राकांपा-कांग्रेस का गढ़ नहीं रहा। पश्चिम महाराष्ट्र की 60 विधानसभा सीटों में  से भाजपा 20, शिवसेना 18, कांग्रेस 2, राष्ट्रवादी कांग्रेस 16 और स्वाभिमानी शेतकरी संगठन को 4 सीटों पर बढ़त मिली है। 

कोकण में भी भगवा 

कोंकण की 36 विधानसभा सीटों में से भाजपा 4, शिवसेना 22, कांग्रेस 2, राष्ट्रवादी कांग्रेस 4 सीटों पर आगे है। जबकि बहुजन विकास आघाडी ने 3 सीटों और महाराष्ट्र स्वाभिमान पक्ष ने 1 सीट पर बढ़त हासिल की है। 

मुंबई में सिर्फ 5 सीटों पर कांग्रेस-राकांपा को बढ़त

मुंबई की 36 विधानसभा सीटों में से भाजपा को 16, शिवसेना को 15, कांग्रेस को 4 और राष्ट्रवादी कांग्रेस को 1 सीटें मिल सकती हैं। राज्य में हुए लोकसभा चुनाव में प्रदेश की 48 सीटों में से भाजपा को 23, शिवसेना को 18, राष्ट्रवादी कांग्रेस को 4, कांग्रेस को 1, एमआईएम को 1 और निर्दलीय उम्मीदवा को 1 सीटें मिली है। 

कमेंट करें
SpLa5