दैनिक भास्कर हिंदी: निरुपम ने कहा- मनसे से कभी गठबंधन नहीं करेगी कांग्रेस, माणिकराव बोले- 'अपनी विचारधारा स्पष्ट करें राज'

March 21st, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता व विधान परिषद के उपसभापति माणिकराव ठाकरे ने कहा है कि महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे)  को भाजपा- विरोधी  मोर्चे में शामिल होने का कोई भी कदम उठाने से पहले विभिन्न मुद्दों पर अपना पक्ष और अपनी विचारधारा स्पष्ट करनी चाहिए। मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने रविवार को अपनी गुडीपाडवा रैली में वर्ष 2019  में  मोदी मुक्त भारत  का आह्वान किया था। जिसके बाद से अगले आम चुनावों से पहले उनके राजनीतिक कदमों के संबंध में अटकले लगाई जा रही हैं और उनके कांग्रेस नीत विपक्षी खेमे में शामिल होने को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है। प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष माणिकराव ठाकरे ने कहा कि 12  साल पहले जबसे राज ठाकरे ने शिवसेना से अलग होकर अपनी पार्टी बनाई तब से अबतक उनके राजनीतिक पक्ष में कोई निरंतरता नहीं रही है। उन्होंने कहा कि उनको स्पष्ट करना होगा कि क्या वह राष्ट्रीय परिदृश्य को अपनाना चाहते हैं या क्षेत्रीय एजेंडा और गैर- प्रवासी रवैये पर टिके रहना चाहते हैं। माणिकराव ठाकरे ने कहा कि कांग्रेस नीत भाजपा विरोधी मोर्चे में शामिल होने का कोई भी प्रयास तभी कार्यान्वित हो सकता है जब वह अपनी विचारधारा स्पष्ट करें।

मनसे से कभी गठबंधन नहीं करेगी कांग्रेस: निरुपम

कांग्रेस पार्टी से मनसे के गठबंधन की संभावनाओं को खारिज करते हुए मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम ने कहा है कि यह महज अफवाह है। कांग्रेस केवल समान विचारधारा वाले दलों के साथ गठबंधन कर सकती है जबकि मनसे की कोई विचारधारा ही नहीं है। मनसे जाति, धर्म, भाषा व प्रांतवाद की राजनीति करती है। जबकि कांग्रेस के लिए सभी एक समान हैं। उन्होंने कहा कि मनसे के लोगों ने पहले उत्तरभारतीयों के साथ मारपीट की अब गुजरातियों को निशाना बना रहे हैं।