दैनिक भास्कर हिंदी: अब बड़े पैमाने पर तबादले! गृहमंत्री-डीजीपी-मुंबई पुलिस कमिश्नर के बीच तीन घंटे चली बैठक

March 24th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। एंटीलिया विस्फोटक और 100 करोड़ रुपए हर महीने वसूली के मामले में राज्य सरकार और पुलिस की फजीहत के बाद अब पुलिस विभाग में बड़े पैमाने पर तबादले की तैयारी चल रही है। बुधवार को राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख, पुलिस महानिदेशक की अतिरिक्त जिम्मेदारी संभाल रहे रजनीश सेठ और मुंबई पुलिस कमिश्नर हेमंत नगराले के बीच तीन घंटे चर्चा हुई। माना जा रहा है कि इस दौरान मुंबई में आला पुलिस अधिकारियों के तबादले को लेकर बातचीत हुई।  इंटेलिजेंस अधिकारी रश्मी शुक्ला द्वारा ट्रांसफर/पोस्टिंग में घूसखोरी की रिपोर्ट के आधार पर विपक्ष इस मुद्दे पर सरकार को लगातार घेर रहा है। इसके चलते सरकार परेशानी में है। ऐसे में मुंबई में लंबे समय से काम कर रहे पुलिसवालों को राज्य के दूसरे हिस्सों में भेजा जा सकता है। साथ ही मुंबई में बड़ी संख्या में निचले स्तर के ऐसे पुलिसकर्मी हैं जो पिछले कई सालों से अपने आकाओं को खुश कर अपराध शाखा या दूसरे विभागों में जमे हुए हैं। 

सबसे पहले इन पुलिसवालों का ही तबादला करने का फैसला किया गया है। इससे पहले मंगलवार को मुंबई पुलिस के 86 अधिकारियों का एक साथ तबादला कर दिया गया था जिनमें से 65 अपराध शाखा में तैनात थे। अपराध शाखा से एक साथ इतने अधिकारियों का पहली बार तबादला हुआ है। मुंबई पुलिस आयुक्त की कुर्सी संभालने के बाद ही नगराले ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि मुंबई पुलिस की खराब हो चुकी छवि को बेहतर बनाने के लिए वे कई कड़े कदम उठाएंगे। सबसे पहले सीनियर इंस्पेक्टर, इंस्पेक्टर और सहायक पुलिस इंस्पेक्टर पदों पर लंबे समय से तैनात पुलिस अधिकारियों पर गाज गिरी है। सीआईयू में वाझे के साथ तैनात एपीआई रियाजुद्दीन काजी और  प्रकाश होवाल का भी तबादला दूसरी जगहों पर कर दिया गया है।   
 

खबरें और भी हैं...