फील्ड डायरेक्टर की कार्यप्रणाली पर उठाए सवाल: पन्ना टाइगर रिजर्व में व्याप्त मनमानी के विरोध में सौंपा ज्ञापन

July 21st, 2022

डिजिटल डेस्क,पन्ना। जिले के कई सामाजिक संगठनों ने आज मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर पन्ना टाइगर रिजर्व में व्याप्त धांधली मनमानी और तानाशाही के खिलाफ  जांच और कार्रवाई की मांग उठाई है। ज्ञापन के माध्यम से बताया गया है कि टाइगर रिजर्व में कार्यरत टूरिस्ट गाइड भारत यादव द्वारा टाईगर पी-234/23 का एक शावक लापता होने की सूचना वन परिक्षेत्र अधिकारी को दी गई थी जिसे गंभीरता से नहीं लिया गया। वन्यप्राणी प्रेमी होने के नाते भारत यादव ने सोशल मीडिया में यह बात रखी और ई-मेल के माध्यम से मुख्यमंत्री को पत्र प्रेषित किया। तदोपरान्त वन परिक्षेत्र अधिकारी द्वारा भारत यादव को कारण बताओ नोटिस जारी कर कारण एवं साक्ष्य प्रस्तुत करने हेतु लेख किया गया। गाइड ने उक्त बाघिन के तीन शावक होने के सारे साक्ष्य प्रस्तुत किये किन्तु 13 जुलाई 2022 को क्षेत्र संचालक द्वारा मामले की जांच किये बगैर सूचनादाता गाइड को ही हटा दिया गया। शावक के गायब होने के संबंध में कोई जांच नहीं की गई और टूरिस्ट गाइड को ही प्रताडित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री के नाम सौंपा गया ज्ञापन के माध्यम से लापता बाघ शावक की जांच और टूरिस्ट गाइड को बहाल करने की मांग की गई है। ज्ञापन पन्ना तहसीलदार दीपाली जाधव ने प्राप्त किया ज्ञापन सौंपने के दौरान भारत यादव, एस.बी.सिंह परमार, त्रिलोक सिंह यादव, जयराम यादव सहित कई सामाजिक कार्यकर्ता शामिल रहे।