शहडोल: 11 हजार से अधिक बच्चें ने नहीं पी पोलियो खुराक

March 2nd, 2022

डिजिटल डेस्क, शहडोल। तीन दिवसीय पल्स पोलियो अभियान के तहत जिले में १ लाख ३५ हजार ३२३ बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाई जा चुकी है। जिले भर में अभी करीब साढ़े ११ हजार बच्चों को दवा पिलाई जानी है। इसके लिए बुधवार को अभियान चलेगा। घर-घर जाकर छूटे हुए बच्चों को दो बूंद जिंदगी की पिलाई जाएगी। 
   २७ फरवरी से तीन दिवसीय अभियान शुरू हुआ था। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिले में शून्य से पांच वर्ष तक के कुल १ लाख ४७ हजार ५३६ बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाई जानी है। २७ फरवरी को एक लाख ९ हजार २०९ बच्चों को दवा पिलाई गई। वहीं अगले दिन २८ फरवरी को २६ हजार ११४ बच्चों ने दो बूंद जिंदगी की पी। मंगलवार को महाशिवरात्रि के कारण अभियान नहीं चला। अब बुधवार को शेष रह गए बच्चों को दवा पिलाई जाएगी।  
पल्स पोलिया अभियान पर एक नजर
ब्लॉक        लक्ष्य    उपलब्धि
ब्यौहारी              ३२८२३       २९७३१
जयसिंहनगर        २९४८४       २८३६१
गोहपारू             १४२६०    १२५५२
बुढ़ार             ३४५०९    ३१०६५
सोहागपुर             २६८२२    २५५६६
अर्बन              ९६३७    ८०४८
कुल             १४७५३६    १३५३२३
सबसे अधिक बुढ़ार ब्लॉक में शेष 
वर्तमान में करीब ११ हजार बच्चे दवा से वंचित रह गए हैं। इनमें सबसे अधिक ३४४४ बच्चे बुढ़ार ब्लॉक के हैं। इसी तरह ब्यौहारी ब्लॉक के ३०३९, जयसिंहनगर ब्लॉक के ११२३, गोहपारू ब्लॉक के १७०८, सोहागपुर ब्लॉक के १२५६ और शहडोल अर्बन में १५८९ बच्चे शेष रह गए हैं। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. अंशुमन सोनारे ने बताया कि इन सभी को बुधवार को दवा पिलाई जाएगी। स्वास्थ्य विभाग और महिला एवं बाल विकास विभाग की टीम घर-घर जाकर बच्चों को दवा पिलाएगी। २८ दिसंबर को कई हाईरिस्क क्षेत्र जैसे ईंट भट्ठों और निर्माण स्थलों में जाकर बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाई गई है।