शहडोल: 80 हजार से अधिक नौनिहालों को पिलाई दो बूूंद जिंदगी की

February 28th, 2022

डिजिटल डेस्क,शहडोल। जिले में रविवार से पल्स पोलिया अभियान शुरु किया गया। तीन दिनों तक चलने वाले अभियान में १ लाख ४७ हजार ५३६ बच्चों को पोलियो दवा पिलाने का लक्ष्य रखा गया है। पहले दिन २७ फरवरी को शाम ५ बजे जिले के ८० हजार से अधिक ० से ५ वर्ष तक के बच्चों को पोलियो दवा पिलाई जा चुकी थी। २८ फरवरी से २ मार्च तक घर-घर जाकर दो बूंद जिंदगी की पोलिया दवा बच्चों को पिलाई जाएगी।
कलेक्टर वंदना वैद्य ने पल्स पोलियो अभियान के तहत शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र न्यू गांधी चौक से बच्चों को पोलियो रोधी दवा पिलाकर अभियान का शुभारंभ किया। कलेक्टर ने कहा कि पोलियो दिव्यांगता का सबसे बड़ा कारण है। पोलियो मुक्त कराने का अभियान सतत जारी है। कोई बच्चा पोलियो की दवा से वंचित न रहे। हर बच्चे को दो बूंद जिंदगी की मिल जाए तो उसकी जिंदगी सुखी रहेगा वह पोलियो से बच सकेगा। कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि बाकी बच्चों का टीकाकरण जो पोलियो बूथ तक नहीं आ सकते या किसी कारण बस छूट गए हैं, उनके घर जाकर आशा कार्यकर्ता एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता उन्हें पोलियो का ड्राफ्ट पिलाएं तथा जिले में शत-प्रतिशत बच्चों को पोलियो ड्राप पिलाया जाए। इस दौरान कलेक्टर ने पोलियो ड्रॉप पीने आए बच्चों के माता-पिता से चर्चा की तथा उन्हें कहा कि अपने आसपास के बच्चों को भी पोलियो का ड्राप पिलाने हेतु प्रेरित करें तथा उन्हें पोलियो बूथ तक भेज कर उन्हें पोलियो का ड्रॉप अवश्य पिलवाएं।
जिला टीकाकरण अधिकारी ने बताया कि अभियान जिले में 27, 28 फरवरी तथा 2 मार्च तक चलाया जाएगा। अभियान के तहत जिले के 0 से 5 वर्ष आयु के बच्चों को दो बूंद जिंदगी की खुराक पिलाई जाएगी। इसके लिए जिले में 1069 पोलियो बूथ स्थापित किए गए हैं। 20 मोबाइल वैन भी तैयार किए गए हैं। जो जिले के दूरस्थ क्षेत्र, गांव, मजरे टोले, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड तथा अन्य स्थानों में जाकर जो लोग पोलियो बूथ तक नहीं पहुंच पा रहे हैं उन तक पहुंचकर पोलियो का ड्राफ्ट पिलाएंगे।