comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

राहुल के सामने दिखाई दी मुंबई कांग्रेस की गुटबाजी, कामत-प्रिया नदारद

June 12th, 2018 23:59 IST
राहुल के सामने दिखाई दी मुंबई कांग्रेस की गुटबाजी, कामत-प्रिया नदारद

डिजिटल डेस्क, मुंबई। कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के मुंबई के दौरे के दौरान मुंबई कांग्रेस की गुटबाजी एक बार फिर सामने दिखाई दी। मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम की तानाशाही से त्रस्त मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष व केंद्रीय मंत्री गुरुदास कामत एयरपोर्ट पर राहुल का स्वागत करने पहुंचे, लेकिन पार्टी कार्यकर्ताओं के सम्मेलन में नहीं पहुंचे। पूर्व सांसद प्रिया दत्त भी कार्यक्रम से नदारत रहीं। निरुपम के मुंबई कांग्रेस की कमान संभालने के बाद पार्टी में गुटबाजी चरम पर है। जिसकी झलक कांग्रेस अध्यक्ष के कार्यक्रम में भी दिखाई दी।

राहुल की मौजूदगी में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को दरकिनार कर जूनियर नेताओं को बोलने का मौका दिया गया। निरुपम ने पूर्व मंत्री व कांग्रेस विधायक नसीम खान, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष कृपाशंकर सिंह की बजाय कांग्रेस विधायक असलम शेख को भाषण देने का मौका दिया। असलम निरुपम गुट के माने जाते हैं जबकि नसीम खान व कृपाशंकर से निरुपम की राजनीतिक अदावत जग जाहिर है। 

सोनिया के नाम पर एतराज
कांग्रेस अध्यक्ष रही सोनिया गांधी के अध्यक्ष पद छोड़ते ही अब पार्टी नेताओं के लिए उनका कोई महत्व नहीं रहा। मंगलवार को गोरेगांव ने एनएसई ग्राउंड पर आयोजित कांग्रेस कार्यकर्ताओं के सम्मेलन के दौरान पार्टी कार्यकर्ता राहुल गांधी के साथ-साथ सोनिया गांधी जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे। यह बात कांग्रेस विधायक असलम शेख को रास नहीं आई। उन्होंने मंच से कहा कि नारे सिर्फ राहुल जी के नाम के लगेंगे। उसके बाद पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा लगाए जा रहे नारो से सोनिया जी गायब हो गई। 

कांग्रेस अध्यक्ष को शिव की मूर्ति
कांग्रेस की छवि बदलने में जुटे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की देखादेखी अब पार्टी के अन्य नेता भी पार्टी पर एक धर्म विशेष के तुष्टीकरण के आरोपों को नकारना चाहते हैं। कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन में पहुंचे राहुल गांधी को मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम की तरफ से भगवान शिव की मुर्ति भेंट की गई। 

राहुल को दिलाई गई रमजान की याद
इन दिनों रमजान चल रहा है लेकिन पूरे भाषण के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष को इसकी याद नहीं आई। जब उनका भाषण खत्म होने को था तो कार्यक्रम का संचालन कर रहे पूर्व विधायक चरणजीत सिंह सप्रा ने उन्हें कागज का एक टुकड़ा पकड़ाया। इसके बाद राहुल ने रमजान और ईद की अग्रिम बधाई की बात बोली। 
 

कमेंट करें
wL83V