दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर: नोट्स हॉस्टल में, लाइब्रेरी बंद, विद्यार्थियों की चिंता बढ़ी

September 17th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय ने 1 से 18 अक्टूबर के बीच अंतिम सेमिस्टर की परीक्षा की घोषणा की है। इससे विश्वविद्यालय के विविध विभागों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों के समक्ष एक समस्या खड़ी हो गई है। विश्वविद्यालय के सभी हॉस्टल और लाइब्रेरी बंद होने से अधिकांश विद्यार्थियों के नोट्स उनके हॉस्टल में ही छूट गए हैं। कैंपस के कई विद्यार्थी  लाइब्रेरी से जारी होने वाली किताबों के सहारे परीक्षा की तैयारी करते हैं। ऐसे में वे परीक्षा की तैयारी कैसे करें यह चिंता बढ़ गई है।

पीडीएफ से नहीं हो रही पढ़ाई
परीक्षा की घोषणा करके पाठ्य सामग्री उपलब्ध नहीं कराने वाले विवि प्रशासन के रवैये से विद्यार्थी मुश्किल में हैं। शिक्षकों ने विद्यार्थियों को पीडीएफ नोट्स तो भेजे हैं, लेकिन प्रत्यक्ष किताबों और मोबाइल पर पीडीएफ से पढ़ने में काफी मुश्किलें आ रही हैं। ऐसे में विद्यार्थियों की मांग है कि विवि उन्हें हॉस्टलों से नोट्स लेने की अनुमति दे और लाइब्रेरी तुरंत खोले। 

विवि ने नहीं सुनी गुहार
उल्लेखनीय है कि मार्च में जब 21 दिन का लॉकडाउन लगा। उसके पूर्व विश्वविद्यालय ने सभी विद्यार्थियों को आनन-फानन में हॉस्टल खाली करने के आदेश दिए थे। उसके बाद विवि के लोअर हॉस्टल में क्वारेंटाइनन सेंटर बना दिया गया और विद्यार्थियों का सामान कुछ कमरों में बंद करके रख दिया गया। तबसे लगातार विद्यार्थी अपने नोट्स व अन्य वस्तुएं वापस करने की मांग विवि से कर रहे हैं। सीनेट सदस्यों ने विवि को कई बार निवेदन भी किया, लेकिन अब तक विवि ने इस दिशा में कदम नहीं उठाए हैं।