दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर का न्यूनतम तापमान 4 डिग्री, धूप निकलने से मिली राहत, शाम होते बढ़ी ठंड  

December 30th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। उपराजधानी सहित विदर्भ में जारी सर्दी के प्रकोप के बीच रविवार को पारा मामूली ऊपर उठा। रविवार को अधिकतम तापमान 26 डिग्री व न्यूनतम तापमान 4 डिग्री दर्ज किया गया, जो सामान्य से 8.6 डिग्री कम है। रविवार को भी विदर्भ में नागपुर सबसे ठंडा रहा। जहां शनिवार को कड़ाके की ठंड पड़ी, वहीं रविवर दोपहर धूप निकल आई। जिससे लोगों को काफी हद तक राहत मिली। धूप में जरा भी चुभन नहीं थी। लेकिन ठंड से राहत देने वाली थी। थोड़ा ऊपर उठा पारा। विदर्भ में नागपुर सबसे ठंडा रहा। आसमान साफ रहा और दिन में अच्छी धूप खिली। शाम होते ही सर्द हवा से लोग कंपकपाने लगे। अगले दो दिन तक मौसम इसी तरह बना रहेगा। हालांकि तापमान में थोड़ी वृध्दि की संभावना है। 1 जनवरी से पारा ऊपर आ सकता है। 

इससे पहले शनिवार को पारा तेजी से गिरकर 3.5 डिग्री सेल्सियस पर आ गया। दिसंबर महीने में यह सबसे कम तापमान है। रविवार को भी तापमान इसी तरह रहने की संभावना है।  दिन में धूप से राहत तो मिलेगी, लेकिन शाम होते ही सर्द हवा की चुभन परेशान करेगी। शहर में ठंड से बचने के लिए लोग जगह-जगह अलाव जला कर ठंड से राहत पाने की कोशिश करते रहे, लेकिन कंपकपी जाने का नाम ही नहीं ले रही थी। फुटपाथ पर रात बिताने वाले लोगों के लिए ठंड जानलेवा साबित हो रही थी। ठंड से शहर में अभी तक 3 व्यक्तियों की मौत होने की खबर है, लेकिन आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि नहीं की गई है।

मौसम विभाग के अनुसार उत्तर भारत में जारी शीतलहर का असर उपराजधानी में तेजी से हो रहा है। इससे शनिवार को अचानक ठंड बढ़ गई। शाम होते ही लोग जगह-जगह अलाव जलाकर हाथ सेंकते नजर आए। कड़ाके की ठंड के कारण शाम से ही अधिकांश सड़कों पर सन्नाटा पसरने लगा। ठंड के कारण लोगों ने शाम को बाहर निकलने के कार्यक्रम बदल दिए। जरूरी होने पर ही लोग बाहर निकल रहे थे। गर्म कपड़ों से भी ठंड दूर नहीं हो रही थी। ठंड के चलते बाजारों की रैानक फीकी रही। जरूरी होने पर ही लोग शाम को बाजार गए। ठंड ने सभी को ठिठुरने पर मजबूर किया। शाम को लोग गर्म कपड़े पहनने के बाद  ही बाहर निकल रहे थे। रविवार को भी  मौसम इसी तरह का बना रहेगा। आसमान साफ रहेगा और धूप खिलेगी। दिन में धूप के साथ ही ठंडी हवा के झोंके भी चलेंगे। शाम होते ही ठंडी हवा का ज्यादा एहसास होगा। शहर में करीब  7 से 8 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा बह रही है। अगर हवा में तेजी आई, तो ठंड और ज्यादा महसूस होगी।

शहर में तीन लोगों के ठंड से मरने की सूचना है। एक व्यक्ति विधान भवन के गेट पर मृत पाया गया। दूसरा हुड़केश्वर क्षेत्र में संजय गांधी नगर में कुर्सी पर बैठी हुई हालत में मृत पाया गया। इसी तरह तीसरा व्यक्ति बैद्यनाथ चौक पर बेहोशी की हालत में पाया गया, जिसकी बाद में मौत हो गई। प्राथमिक तौर पर इनकी ठंड से मौत होने की आशंका व्यक्त की गई है, लेकिन आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। तीनों शवों की पहचान होना बाकी है। मामलों को हुड़केश्वर, बर्डी और गणेशपेठ थाने में आकस्मिक मृत्यु के रूप में दर्ज किया गया है। शनिवार की सुबह 9 बजे विधान भवन के मुख्य गेट पर 55 वर्षीय व्यक्ति को मृत अवस्था में पाया गया है। सफाई कर्मी ने शव देखकर नियंत्रण कक्ष को सूचना दी थी। संबंधित थाने की पुलिस मौके पर पहुंची थी। शव की पहचान कराने का प्रयास किया गया है। दूसरी घटना में गणेश साठे 65 वर्ष हिंगणघाट वर्तमान में नागपुर निवासी था और चौकीदारी का काम करता था। शुक्रवार की रात में उसे हुड़केश्वर क्षेत्र में संजय गांधी नगर में जनजागृति भारतीय नागरिक पत संस्था में कुर्सी पर बैठी हुई हालत में मृत पाया गया है। ठंड अथवा दिल का दौरा पड़ने से उसकी मौत होने की आशंका व्यक्त की जा रही है। शुक्रवार को ही बैद्यनाथ चौक स्थित पेट्रोल पंप के पास 45 वर्षीय व्यक्ति को भी बेहोशी की हालत में पाया गया था। उसकी भी मौत हुई है।

कब कितना था तापमान ?
22 दिसंबर     6.3 डिग्री सेल्सियस
23 दिसंबर     7.1 डिग्री सेल्सियस
24 दिसंबर     7.8 डिग्री सेल्सियस
25 दिसंबर     9.4 डिग्री सेल्सियस
26 दिसंबर     10.9 डिग्री सेल्सियस
27 दिसंबर     10.9 डिग्री सेल्सियस
28 दिसंबर     5.7 डिग्री सेल्सियस
29 दिसंबर     3.5 डिग्री सेल्सियस