एनसीपी की मांग : मराठवाड़ा-नाशिक को करें सूखाग्रस्त घोषित, सीएम को लिखा खत

NCP demanded : Declaring drought to Marathwada-Nashik
एनसीपी की मांग : मराठवाड़ा-नाशिक को करें सूखाग्रस्त घोषित, सीएम को लिखा खत
एनसीपी की मांग : मराठवाड़ा-नाशिक को करें सूखाग्रस्त घोषित, सीएम को लिखा खत

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने मराठवाडा और नाशिक जिले को सूखाग्रस्त घोषित करने की मांग की है। विधान परिषद में विपक्ष के नेता धनंजय मुंडे ने ट्विट कर कहा है कि मानसून की बेरुखी से मराठवाडा में फसले सूख रही हैं। इस लिए सरकार तत्काल सूखा ग्रस्त घोषित करें। दूसरी तरफ राकांपा के वरिष्ठ नेता छगन भुजबल ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को पत्र लिख कर कहा है कि नाशिक जिले में बारिश न होने से पानी की किल्लत पैदा हो गई है। 

भुजबल ने लिखा है, सूखे के चलते किसानों की खरीफ की फसल बर्बाद हो गई है। इस लिए नाशिक जिले में तुरंत सूखा दूर करने के लिए सरकार उपाय योजना शुरु करें। भुजबल ने अपने पत्र में कहा है कि नाशिक जिले के येवला, नांदगाव, निफाड, मालेगांव, बागलाण, कलवल, देवला, चांदवड, सिन्नर, पूर्व दिंडोरी, पूर्व नाशिक सहित अधिकांश इलाकों में जुलाई के बाद बारिश नहीं हुई है। जून महीने में हुई थोड़ी-बहुत बारिश से किसान बुआई कर पाए थे। पर खरीफ की फसल के लिए जुलाई-अगस्त में भरपुर पानी की जरूरत पड़ती है। लेकिन मानसून के अभाव में खरीफ की फसल खराब हो चुकी है।

उन्होंने लिखा है, जिले के कई गांवों में पानी की किल्लत शुरु हो गई है। बहुत से गांवों में टैंकर से पानी की आपूर्ति की जा रही है। जानवरों के चारे-पानी की समस्या भी खड़ी हो रही है। भुजबल ने मांग की है कि सूखे की स्थिति को देखते हुए बिजली बिल वसूली के लिए सख्ती न की जाए। इस हालत में किसानों का बकाया बिजली बिल जमा करना संभव नहीं है।   

 

Created On :   26 Sep 2018 2:36 PM GMT

और पढ़ेंकम पढ़ें
Next Story