comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

जेईई और नीट परीक्षा की नई तारीखों पर मंथन, आगामी सत्र में सिलेबस कम कर सकता है सीबीएसई

जेईई और नीट परीक्षा की नई तारीखों पर मंथन, आगामी सत्र में सिलेबस कम कर सकता है सीबीएसई

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कोरोना संक्रमण के कारण देश में जारी लॉकडाउन का असर शिक्षा वर्ग पर पड़ रहा है। लॉकडाऊन के चलते परीक्षा में कई बदलाव देखने को मिल सकते हैं। हाल ही में सोशल मीडिया पर एक सर्कुलर ने विद्यार्थियों और पालकों में संभ्रम बढ़ा दिया। सर्कुलर में दावा किया जा रहा था कि, जेईई मेन्स परीक्षा जुलाई के पहले सप्ताह में होगी। एनटीए ने पत्रक जारी कर इसे अफवाह बताकर खारिज कर दिया है। हां, देश के मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ने प्रसार माध्यमों को दिए साक्षात्कार में कुछ स्थिति जरूर स्पष्ट की गई है। पोखरियाल द्वारा जानकारी दी गई है कि, जेईई मेन्स परीक्षा जून में ली जा सकती है। फिलहाल एनटीए, सीबीएसई और अन्य राज्यों के शिक्षा बोर्ड समेत अन्य घटकों से चर्चा कर रहा है। उल्लेखनीय है कि, एनटीए ने पहले ही 5 से 11 अप्रैल तक प्रस्तावित जेईई मेन्स परीक्षा और 3 मई को प्रस्तावित अंडरग्रेजुएट मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट (नेशनल इलिजिबिलिटी एंट्रेंस टेस्ट) स्थगित कर दी है। हर वर्ष एमएचसीईटी परीक्षा में राज्य से करीब 4 लाख विद्यार्थी शामिल होते हैं। विदर्भ के 40 हजार विद्यार्थी शामिल होते हैं।

12वीं का सिलेबस कम कर सकता है सीबीएसई

देश में स्थिति सामान्य होने के बाद जब 12वीं कक्षा का नया शैक्षणिक सत्र शुरू होगा, तो उसमें सिलेबस कम किया जा सकता है। शिक्षामंत्री के अनुसार लॉकडाऊन के कारण पहले ही नए शैक्षणिक सत्र में डेढ़ माह का विलंब हो गया है। ऐसे में आगामी शैक्षणिक सत्र में सिलेबस पूरा करना स्कूलों के लिए चुनौती से काम नहीं है। सामान्यत: स्कूल दिसंबर माह तक पाठ्यक्रम पूरा कर देते हैं, लेकिन कोरोना के कारण स्थिति बिगड़ गई है। सीबीएसई ने अपनी कोर्स कमेटियों को सिलेबस कम करने के काम पर लगा दिया है। इससे जुड़ी घोषणाएं जल्द ही देखने को मिल सकती है।
 

कमेंट करें
Dan8o