comScore

नई खदानें जल्द खुलेगी, कोयलांचल पहुंचे वेकोलि सीएमडी

नई खदानें जल्द खुलेगी, कोयलांचल पहुंचे वेकोलि सीएमडी

डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा/परासिया। कोयलांचल में दो नई कोयला खदानें नवम्बर माह के दूसरे सप्ताह में खुलेगी। जिसकी पूर्व तैयारी को लेकर वेस्टर्न कोल फील्डस लिमिटेड- वेकोलि के अध्यक्ष सह निदेशक- सीएमडी राजीव रंजन मिश्रा शनिवार को कोयलांचल पहुंचे। उन्होंने वीआईपी काटेज चांदामेटा में कोयलांचल के श्रम संगठन पदाधिकारियों और जनप्रतिनिधियों को आयोजन की स्थिति से अवगत कराते हुए उक्त जानकारी दी। इससे पहले उन्होंने छिंदवाड़ा कलेक्टर डॉ. श्रीनिवास शर्मा से मिलकर खदान खोलने की औपचारिकता पर चर्चा की। 
कन्हान में होगा आयोजन  
नई खदान खोलने कन्हान क्षेत्र के जमकुंडा में शारदा परियोजना का भूमिपूजन किया जाएगा। वहीं पेंच क्षेत्र की धनकसा खदान खोलने का भूमिपूजन किया जाएगा। कोयला मंत्री और मुख्यमंत्री के हस्ते होने वाले उक्त आयोजन में श्रम संगठन के पदाधिकारियों सहित जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित किया जाएगा। 
सुविधाओं में कटौती नहीं, अपव्यय रोका जाएगा : 
सीएमडी मिश्रा ने श्रमिक पदाधिकारियों को स्पष्ट कहा कि कामगारों से जुड़ी सुविधा व्यवस्था में किसी तरह की कोई कटौती नहीं होगी। वहीं अपव्यय रोकने का कम्पनी लगातार प्रयास करेगी। जिसके तहत औद्योगिक दर की बिजली का घरेलू उपयोग रोककर, कामगारों को घरेलू बिजली कनेक्शन उपलब्ध करवाने को प्राथमिकता दी जाएगी। सीएमडी ने सुरक्षित कोयला उत्पादन की नीति अपनाने पर जोर दिया। वहीं बीएमएस ने मांगपत्र भी सौंपा।  इस अवसर पर पेंचक्षेत्र महाप्रबंधक सुहाष सी. पांडया, बीएमएस नेता राकेश चतुर्वेदी, संजय सिंह, सुख अमृत पारस, कुंवर सिंह, एचएमएस नेता राजेश सूर्यवंशी, सीटू नेता मार्केण्डे मिश्रा मौजूद रहे। 
एटक का बहिष्कार, अलग- अलग मिले पूर्व विधायक 
सीएमडी की वार्ता बैठक का श्रम संगठन एटक ने बहिष्कार किया। एटक के मीडिया प्रभारी मोहम्मद नदीम खान ने बताया कि क्षेत्रीय प्रबंधन द्वारा एटक की कामगार हितों से जुड़ी मांगों को लम्बे समय से नजर अंदाज किया जा रहा है। लम्बे समय से समंवयक समिति की बैठक आयोजित नहीं हुई है। जिसके विरोध में सीएमडी की वार्ता का बहिष्कार किया है। वहीं सीएमडी से पूर्व विधायक ताराचंद बावरिया और नत्थन शाह कवरेती की भी वार्ता हुई।  

कमेंट करें
QZR23