पेंशन में बढ़ोतरी नहीं: केंद्र सरकार के खिलाफ सेवानिवृत्त कर्मियों का विरोध प्रदर्शन

November 17th, 2021

डिजिटल डेस्क, गोंदिया। विगत 26 वर्षों से पेंशन में बढ़ाेत्तरी नहीं होने के कारण केंद्र सरकार के खिलाफ मंगलवार, 16 नवंबर को जिलाधिकारी कार्यालय परिसर में सेवानिवृत्त कर्मचारी समन्वय समिति के पदाधिकारियों ने केंद्र सरकार के खिलाफ निषेध आंदोलन किया गया। इसके पश्चात विविध मांगों का ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से प्रधानमंत्री के नाम सौंपा है। सौंपे गए ज्ञापन में संगठन द्वारा जानकारी दी गई कि गत 26 वर्षों से केंद्र सरकार द्वारा 1 हजार रुपए से अधिक पेंशन बढ़ाई नहीं जा रही है। वर्ष 2011 से 20 तक अनेकों बार दिल्ली के जंतर-मंतर व रामलीला मैदान पर पेंशन वृद्धि को लेकर आंदोलन किए जा चुके हैं। बावजूद इस ओर अनदेखी की गई। इसलिए निवृत्ति कर्मचारी समन्वयक समिति ने निर्णय लिया कि संपूर्ण देश में एक ही दिन अर्थात 16 नवंबर को निषेध दिन मनाकर मांगों का ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से प्रधानमंत्री के नाम सौंपा जाए। इस निर्णय के तहत 16 नवंबर को गोंदिया जिलाधिकारी कार्यालय के सामने निषेध आंदोलन किया गया है। इस दौरान राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जे.आर. घोंगडे, जिलाध्यक्ष दिलीप पाटील, के.एच. बसंतवानी, डी.ओ. रहांगडाले, डी.एस. कुथे, जी.पी. लिल्हारे, टी.टी. कंसमारे, आर.बी. चौबे उपस्थित थे। 

खबरें और भी हैं...