दैनिक भास्कर हिंदी: यूनिवर्सिटी में शुरू होगी ऑनलाइन फीस पेमेंट सुविधा

January 30th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय ने ढाई साल की जद्दोजहद के बाद आखिरकार अपने यहां ऑनलाइन एग्जाम फीस पेमेंट की सुविधा शुरू करने की तैयारी पूरी की है। हाल ही में यूनिवर्सिटी अधिकारियों की बैठक में यह सेवा शुरू करने पर मुहर लगी है। 

कतार से निजात
इस नई सुविधा के तहत विश्वविद्यालय ने अपने अमरावती रोड स्थित कैंपस के विद्यार्थियों को यह सुविधा दी है। इसके तहत विद्यार्थी डेबिट, क्रेडिट, नेट बैंकिंग और यूपीआई के जरिए विश्वविद्यालय को ऑनलाइन फीस पेमेंट कर सकेंगे। नागपुर विश्वविद्यालय जल्द ही अपनी वेबसाइट पर इससे जुड़ी लिंक उपलब्ध कराएगा। कैंपस के विद्यार्थियों के अलावा कॉलेज भी आरटीजीएस के माध्यम से विवि को परीक्षा शुल्क का भुगतान कर सकेंगे। कॉलेजों के विद्यार्थी कॉलेज में ही फीस भरेंगे। इसके बाद कॉलेज इस फीस को आरटीजीएस के जरिए विवि को भेज सकेंगे। अब तक जारी प्रक्रिया के अनुसार कॉलेजों को डीडी बना कर विवि को देनी पड़ती थी। वहीं विवि के विविध विभागों के विद्यार्थियों को लंबी-लंबी कतारों में लग कर कैंपस के फीस काउंटरों पर फीस अदा करनी पड़ती थी। 

डेढ़ साल की देर हुई
8 नवंबर 2016 में हुई नोटबंदी के बाद सभी जगह कैशलेस पेमेंट सिस्टम का बोलबाला था। सरकार के आदेशानुसार, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने नागपुर विवि समेत प्रदेश भर के विश्वविद्यालयों को निर्देश दिए थे कि वे अपने यहां कैश लेन-देन पूरी तरह बंद कर दें। विद्यार्थियों से प्रवेश शुल्क, परीक्षा शुल्क, स्टॉफ का वेतन या अन्य काेई भी लेन-देन केवल ऑनलाइन माेड से ही पूरा करें। इसके बाद परीक्षा शुल्क ऑनलाइन स्वीकारने को लेकर दिसंबर 2017 में वित्त व लेखा अधिकारी डॉ.राजू हिवसे, परीक्षा व मूल्यांकन बोर्ड डायरेक्टर डॉ.नीरज खटी और अन्य अधिकारियों की बैठक हुई थी। विवि ने यस बैंक से इस दिशा में करार भी किया था। निर्धारित योजना के अनुसार विवि ने मार्च 2018 की ग्रीष्मकालीन परीक्षा से यह सेवा शुरू करनी थी, लेकिन इसके नियोजन में अतिरिक्त समय लग गया। अब जाकर विवि ने विद्यार्थियों के लिए यह सेवा शुरू की है। 

वेबसाइट पर लिंक डाल रहे  
विश्वविद्यालय ने ऑनलाइन पेमेंट सिस्टम की सेवा शुरू करने का फैसला लिया है। इससे जुड़ी प्लानिंग पूरी हो गई है। जल्द ही हम विवि की वेबसाइट पर ऑनलाइन पेमेंट सिस्टम की लिंक उपलब्ध कराने जा रहे हैं। 
- डॉ.राजू हिवसे, वित्त व लेखा अधिकारी नागपुर विश्वविद्यालय