दैनिक भास्कर हिंदी: 3 महीने बाद कल से खुल जाएगा पेंच टाइगर रिजर्व, वाहनों में होंगे मोबाइल ट्रेकर

September 30th, 2017

डिजिटल डेस्क,सिवनी। पिछले तीन महीनों से बंद पेंच टाइगर रिजर्व कल यानि 1 अक्टूबर से लोगों के लिए खुल जाएगा। वहीं, पार्क प्रबंधन ने पर्यटकों की आवाजाही को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली है। इस बार पार्क में आने से पहले पर्यटकों को गाईड चार्ज अलग-अलग स्तर पर देंने होंगे। पहले ये शुल्क एक साथ लिया जाता था। पार्क प्रबंधन को उम्मीद है कि इस बार अधिक पर्यटक आएंगे। पार्क के तीनों गेट(कर्माझिरी, गुमतरा और टुरिया) से पर्यटकों को प्रवेश दिया जाएगा। यहां पर कर्मचारियों और अधिकारियों की नियुक्ति कर दी गई है।

वाहनों में लगेगा मोबाइल ट्रेकर
इस साल पार्क भ्रमण में लगे पंजीकृत वाहनों में मोबाइल ट्रेकर का उपयोग किया जा रहा है। इस ट्रेकर की मदद से पार्क प्रबंधन को यहजानकारी मिल जाएगी कि वाहन पार्क भ्रमण के दौरान निर्धारित की गई गति एवं स्थानों पर ही भ्रमण कर रहा है या नहीं। यदि कोई वाहन निर्धारित की गई गति एवं निर्धारित किए गए स्थानों से अळग जा रहा है तो ऐसी स्थिति में मोबाइल ट्रेकर पार्क प्रबंधन को बता देगा कि अमुक वाहन ने नियमों का उल्लघंन किया है। इससे पार्क में भ्रमण के दौरान वाहनों की गति पता चलेगी साथ ही वाहन के एक ही जगह एकत्रित होकर नियम के खिलाफ पर्यटन की जानकारी भी मिल सकेगी।

जेब पर बोझ
इस वर्ष पार्क भ्रमण के लिए आने वाले पर्यटकों के साथ जाने वाले गाइडों का जी-1, जी-2 में श्रेणी में रखा गया है। इसमें उच्च प्रशिक्षित गाइडों को जी-1 श्रेणी में रखा गया है। जिसका गाइड शुल्क 500 रुपए प्रति भ्रमण एवं सामान्य गाइडों जो कि जी-2 श्रेणी में रहेंगे उनका भ्रमण शुल्क 360 रुपए प्रति भ्रमण रहेगा। पर्यटकों की डिमांड पर जी-1 गाइड उपलब्ध कराए जाएंगे। कोर क्षेत्र में पर्यटन वाहनों के प्रवेश के लिए दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। बफर क्षेत्र में प्रति वाहन प्रवेश शुल्क 1250 रुपए निर्धारित किया गया है।  पर्यटकों की सुविधा के लिए पार्क भ्रमण से संबंधित अन्य आवश्यक जानकारियां प्रवेश द्वारों पर उपलब्ध वन अमले से प्राप्त की जा सकती है।  पेंच टाइगर रिजर्व के फील्ड डायरेक्टर शुभरंजन सेन का कहना है कि पार्क में सभी तैयारियां हो चुकी हैं। गाइडों के लिए अलग अलग श्रेणियां बनाई गई है। मोबाइल ट्रेकर से अनुशासन बना रहेगा।