दैनिक भास्कर हिंदी: शारीरिक रूप से अनफिट उम्मीदवारों की नौकरीं से होगी छुट्टी, मापदंड हुए तय

June 19th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्य सरकार के 50 से 55 वर्ष आयु वाले और 30 साल की सेवा पूरी कर चुके कर्मचारियों-अधिकारियों की कार्य क्षमता की जांच पड़ताल की जाएगी। कामकाज में अनफिट पाए जाने वालों को सेवानिवृत्त से पूर्व रिटायर किया जाएगा। सामान्य प्रशासन विभाग ने इस तरह का आदेश दिया है। सूत्रों के अनुसार सामान्य प्रशासन विभाग ने शारीरिक रूप से अनफिट, अकार्यक्षम और ठीक तरह से काम न करने वालो को समय से पहले रिटायर करने की योजना तैयार की गई है। हाल ही में सामान्य प्रशासन विभाग ने सरकारी कर्मचारियों-अधिकारियों की जांच पड़ताल के लिए मापदंड तय किए हैं। इसे लेकर सरकारी कर्मचारियों में रोष है। इससे सैंकड़ों कर्मचारियों-अधिकारियों की नौकरीं खतरे में पड़ सकती है। 

सेवा का पुनरावलोकन होगा

सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी मापदंड के अनुसार 35 साल पहले सरकारी सेवा ज्वाइन करने वाले गट-अ और गट-ब राजपत्रित अधिकारियों के अलावा कर्मचारियों जिसकी आयु 50 साल से ज्यादा हो अथवा सेवा के 30 साल पूरे हो चुके हों, उनमें जो अधिक हो, उनकी सेवा का पुनरावलोकन किया जाएगा। सूची में शामिल अधिकारियों-कर्मचारियों के बारे में गोपनीय रिपोर्ट हर साल 31 मार्च तक तैयार करनी होगी।

समिति गठित की जाएगी


सेवा पुनरावलोकन के लिए हर प्रशासकीय विभाग में समिति गठित की जाएगी। यह समिति हर साल अगस्त में पुनरावलोकन का कामकाज शुरू कर 31 दिसंबर तक कार्य पूरा करेगी। जांच पड़ताल के बाद कर्मचारियों-अधिकारियों को अपात्र ठहराने पर अंतिम निर्णय के लिए संबंधित विभाग के प्राधिकारी के पास भेजा जाएगा।

तीन माह पहले नोटिस

जो कर्मचारी-अधिकारी अपात्र ठहराए जाएंगे, उन्हें तीन महीने पहले नोटिस दिया जाएगा। प्रत्यक्ष तौर पर नोटिस न स्वीकार करने पर डाक से भेजा जाएगा।


 

खबरें और भी हैं...