comScore

रवि भवन में निकला जहरीला सांप, सर्पमित्र की नियुक्ति

June 15th, 2018 22:29 IST
रवि भवन में निकला जहरीला सांप, सर्पमित्र की नियुक्ति

डिजिटल डेस्क,नागपुर। रवि भवन में जहरीला नाग दिखाई देने से दहशत बनी हुई है। 4 जुलाई से मानसून सत्र होने जा रहा है उसके पूर्व जहरीला सांप दिखने से रवि भवन में दो सर्प मित्रों की नियुक्ति करने का निर्णय लिया गया है। सार्वजनिक निर्माण विभाग सर्प मित्रों की नियुक्ति करेगा।

सनद रहे कि, करीब 47 साल बाद नागपुर में विधान मंडल का मानसून सत्र होने जा रहा है। अधिवेशन के लिए सरकार नागपुर में दाखिल होगी। मंत्रियों के रहने की व्यवस्था हमेशा की तरह रवि भवन में रहेगी। इस परिसर में दो दिन पूर्व जहरीला नाग निकलने से कोहराम मच गया था। जिसे देखने लोगों की भीड़ जमा हुई। देखते ही देखते नाग वहां से निकल गया। अधिवेशन से पहले नाग के दर्शन होने से निर्माणकार्य विभाग सतर्क हो गया। रवि भवन में मंत्रियों की सुरक्षा की दृष्टि से दो सर्प मित्रों की नियुक्ति करने का कदम उठाया गया है। अधिवेशन कलावधि में 24 घंटे एक सर्प मित्र तैनात रहेगा। रवि भवन, हैदराबाद हाउस, नाग भवन, आमदार निवास में सांप निकलने पर सर्प मित्र की सहायता ली जाएगी।

सरपंच भवन परिसर में पकड़ा धामन
जिला परिषद के सरपंच भवन परिसर स्थित निर्माणकार्य विभाग में कार्यालय के अंदर सांप कुंडली मारकर बैठा था। कार्यालय में कार्यरत एक कर्मचारी की नजर सांप पर पड़ते ही वह घबरा गया और जोर से चिल्लाकर सभी को सतर्क किया। काफी समय तक कर्मचारी सांप की दहशत में रहे। सर्प मित्रों को फोन कर सूचित किया गया। सर्प मित्र ने पहुंचकर सांप को पकड़ लिया। पकड़ा गया सांप धामन प्रजाति का बताया गया है।

इधर कबूतरों की पेटी में घुसा छह फीट का ब्राउन कोबरा सांप
कलमना परिसर स्थित विजयनगर परिसर में तमाशबीनों की उस वक्त भीड़ लग गई, जब एक ब्राउन कोबरा कबूतरों की पेटी में जा घुसा और चार कबूतरों को मार डाला। कोबरा अंडे व चूजों को खा गया। घटना का पता उस समय चला जब कबूतरबाज सुबह कबूतरों को दाना पानी देने के लिए आंगन में रखी पेटी के पास पहुंचा।

कलमना परिसर के विजय नगर में राजकुमार उसेंडी रहता है। उसे कबूतरबाजी का शौक है। एक वर्ष से उसने अपने घर के आंगन में कबूतर पालना शुरू किया। उनके लिए स्वतंत्र रुप से लकड़ी की पेटी भी बनवाई है। पेटी में  4 कबूतर, 2 चूजे व 2 से 3 अंडे थे। रोज की तरह राजकुमार सुबह कबूतरों को दाना-पानी देने के लिए गया तो पेटी के अंदर का नजारा देख भौंचक्का रह गया। भीतर एक ब्राउन कोबरा लगभग 6 फीट लंबा फन फैलाए बैठा था। उसका पेट फूला हुआ था। पेटी में अंडे व चूजे गायब थे, चार कबूतर मृत अवस्था में पड़े हुए थे। राजकुमार ने तुरंत सर्पमित्र संदीप भुडे को घटना की जानकारी दी। इस बीच राजकुमार के घर के सामने तमाशबीनों की भीड़ लग गई। सर्पमित्र कुछ देर बाद वहां पहुंचा और सांप को पकड़ कर जंगल में ले जाकर छोड़ दिया।

कमेंट करें
DeCK0
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।