दैनिक भास्कर हिंदी: थाईलैंड टूर नाम पर टूरिस्टों से लाखों ठगने वाला अब सलाखों के पीछे

August 9th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। विदेश टूर का झांसा देकर टूर एंड ट्रैवल एजेंसी के संचालकों ने कई लोगों को ठग लिया। प्रकरण के उजागर होने के बाद दोनों आरोपियों के खिलाफ अंबाझरी थाने में धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया गया है। इसमें से एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। 

तारीख पर तारीख देते रहे
अनिल देशमुख उर्फ शांतनु बालकृष्ण वाघ (30) दहेगांव, खापरखेड़ा निवासी और उसका भागीदार पंकज पाल बैलवाडी, कोराडी निवासी हैं। दोनों मिलकर टूर एंड ट्रैवल कंपनी चला रहे थे। उन्होंने देश-विदेश की सैर कराने का टूर पैकेज बनाया, जिसके चलते करीब 25 से 30 लोगों ने थाईलैंड का पैकेज बुक कराया था। पुरोहित ले-आउट निवासी शक्ति मोतीलाल निर्मल (36) और उनके साथ में लगभग दर्जन भर लोगों ने करीब सवा तीन लाख रुपए आरोपी शांतनु और पंकज को दिए थे। यह बात 29 जून से 7 अगस्त 2018 के बीच की है। इसके बाद शांतनु और पंकज लोगों को तारीख पर तारीख यह कहकर देते रहे कि आज-कल में टूर रवाना होने वाला है। परेशान होकर लोग अपने रुपए वापस मांगे, लेकिन शांतुन और पंकज रुपए देने के लिए तैयार नहीं थे।

वर्तमान में करीब दर्जन भर ही पीड़ित सामने आए हैं, जबकी निरीक्षक भीमराव खंडारे के अनुसार 25 से 30 लोगों से दोनों आरोपी मित्रों ने लाखों रुपए ठग लिए हैं। शक्ति की शिकायत पर प्रकरण दर्ज कर शांतनु को गिरफ्तार किया गया है। फरार पंकज की तलाश जारी है। 

यात्रियों को आफिस बुलाया
शांतनु ठगी में माहिर है। इसके लिए वह दो नामों का इस्तेमाल करता था। शांतनु का फर्जी नाम अनिल देशमुख है। जिन लोगों से रुपए लिए गए थे उन लोगों को शांतनु और पंकज ने 4 अगस्त को अपने दफ्तर में पूरी तैयारी के साथ बुलाया था। क्योंकि उन्हें उसी दिन थाईलैंड रवाना होने की जानकारी दी गई थी। यात्री पूरी तैयारी के साथ दफ्तर में पहुंचे, तो पता चला कि ऐसी कोई व्यवस्था नहीं की गई है और न ही किसी का टिकट बुक हुआ था। यहां तक कि किसी के रहने-खाने की व्यवस्था भी नहीं थी, जिससे मामला थाने पहुंचा है।

खबरें और भी हैं...