दैनिक भास्कर हिंदी: करंट लगाकर किया बाघ का शिकार, फिर खेत में ही दफना दिया, शिकारी गिरफ्तार

May 9th, 2019

डिजिटल डेस्क, चौरई/छिंदवाड़ा। महाराष्ट्र में बाघ के अवशेष के साथ पकड़ाए शिकारी ने अपने तीन साथियों के साथ मिलकर पेंच नेशनल पार्क के बफर एरिया के साजपानी में करंट फैलाकर बाघ का शिकार किया था। शिकार के बाद बाघ के अंग निकालकर उसे खेत में दफना दिया था। फारेस्ट की टीम ने इनमें से दो शिकारियों को दबोच लिया है, वहीं एक आरोपी की तलाश जारी है।  बाघ की जब्त हड्डियों और सिर सहित अवशेषों के मुताबिक आरोपियों ने जिस बाघ का शिकार किया था वह दो से तीन साल का शावक था।

बाघ के अवशेष किए जब्त-
बुधवार को पेंच और चौरई फारेस्ट की टीम महाराष्ट्र से रिमांड पर लाए गए आरोपी रामदास पिता भंगू को साजपानी और हलाल लेकर पहुंची। आरोपी की निशानदेही पर फारेस्ट की टीम ने रामदास के खेत से बाघ के अवशेष जब्त किए हैं। पूछताछ में रामदास ने बताया कि उसने हलाल के हरिपाल, उसके बेटे और भतीजे के साथ मिलकर बाघ का शिकार किया था। जिसके बाद टीम ने हरिपाल और उसके भतीजे को दबोच लिया है। हरिपाल पहले भी शिकार के मामले में गिरफ्तार हो चुका है। वहीं हरिपाल का बेटा फरार है। जिसकी तलाश की जा रही है।  

खेत में सिर, पेटी में मिले दांत-
मुख्य आरोपी रामदास ने जांच अधिकारियों को बताया कि बाघ का सिर अनुपयोगी होने पर उसने उसे खेत में बांस के ढेर में छिपाकर रखा है। वन अमले ने उसके खेत से बाघ का सिर, जबड़ा जब्त किया। वहीं उसके घर में रखी पेटियों में छिपाकर रखे गए बाघ के दांत भी जब्त किए गए।

दो साल के शावक का किया था शिकार-
बाघ की जब्त हड्डियों और सिर सहित अवशेषों के मुताबिक आरोपियों ने जिस बाघ का शिकार किया था वह दो से तीन साल का शावक था। कम उम्र के शावक का उन्होंने करंट लगाकर साजपानी स्कूल के पास शिकार किया था।