दैनिक भास्कर हिंदी: कांस्टेबल की हत्या के आरोपियों की तलाश के लिए लगाई गई 5 थानों की पुलिस...

June 15th, 2020

डिजिटल डेस्क सतना। नयागांव थाना अंतर्गत पथरा गांव के करीब डीजल की कालाबाजारी पकडऩे पर रविवार की दोपहर ट्रैक्टर से कुचल कर आरक्षक प्रबल प्रताप सिंह की दिन दहाड़े हत्या के सनसनीखेज वारदात में शामिल आरोपियों की हर हाल में गिरफ्तारी के लिए एसपी रियाज इकबाल ने नयागांव, मझगवां, बरौंधा, धारकुंडी और सभापुर थाने की पुलिस को सर्चिंग पर उतार दिया है। घटना की खबर पर चित्रकूट पहुंचे एसपी ने जिला मुख्यालय से भी भारी पुलिस बल चित्रकूट बुला लिया है। माना जा रहा है कि मूलत: उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले के भरतकूप निवासी आरोपी रामऔतार पटेल और उसके 2 अन्य साथी घटना के बाद ज्यादा दूर तक भागने में कामयाब नहीं हुए होंगे। असल में हत्या के बाद आरोपियों ने ट्रैक्टर से भागने के लिए शार्ट कट कच्चा रास्ता पकड़ा मगर बीच रास्ते में ही ट्राली पलट जाने के कारण आरोपी सिर्फ ट्रैक्टर लेकर भागे। उधर, खबर मिलते ही सीमाई क्षेत्र में पुलिस को अलर्ट कर दिया गया था।
पहले लगा सिर्फ हादसा है मौत :----
रविवार की दोपहर जब नयागांव थाने में पदस्थ आरक्षक प्रबल प्रताप सिंह की मृत्यु की खबर आई तो ये माना गया कि उनकी मृत्यु सिर्फ सड़क हादसा है लेकिन जब पुलिस मौके पर पहुंची तो प्रत्यक्षदर्शी ग्रामीणों ने बताया कि पुलिस आरक्षक की मृत्यु महज हादसा नहीं, हत्या है। पुलिस ने बताया कि 32 वर्षीय आरक्षक प्रबल प्रताप सिंह मूलत: उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले के लालगंज थाना अंतर्गत बन्ना मऊ गांव के रहने वाले थे। वर्ष 2014 में रतलाम से वे पुलिस में भर्ती हुए थे और तकरीबन 3 साल पहले तबादले पर नयागांव थाने आए थे।  
 आज है शादी की पहली वर्षगांठ :----
 उल्लेखनीय है, प्रबल प्रताप सिंह का विवाह पिछले साल 15 जून को हुआ था।    
 वह तीन माह पूर्व ही पत्नी को गांव से चित्रकूट आए थे। आज शादी की साल गिरह थी , मगर होनी को तो कुछ और ही मंजूर था। दुखद खबर मिलते ही उनके बहन और बहनोई भी चित्रकूट पहुंच गए हैं। उनका पोस्टमार्टम 15 जून को कराए जाने के बाद पार्थिव देह परिजनों को सौंप दी जाएगी।