दैनिक भास्कर हिंदी: आचार संहिता के दौरान एक्साइज विभाग ने की रिकॉर्ड तोड़ कार्रवाई

July 2nd, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर । लोकसभा चुनाव की आचार संहिता के दौरान स्टेट एक्साइज विभाग ने रिकॉर्ड तोड़ कार्रवाई करते हुए अवैध शराब विक्रेता व शराबियों की कमर तोड़ने का काम किया था। आचार संहिता के दौरान विभाग ने अवैध शराब के 535 मामले दर्ज कर 550 आरोपियों पर कार्रवाई की थी। विभाग ने 60 लाख से ज्यादा की शराब जब्त की थी। 

इस तरह हुई थी कार्रवाई

नागपुर जिले में लोकसभा चुनाव की आचार संहिता मार्च महीने से लग गई थी, जो मई महीने तक चली। ढाई महीने तक चली चुनावी आचार संहिता के दौरान एक्साइज विभाग ने अवैध शराब की बिक्री, शराब का अवैध संग्रहण व शराब का परिवहन करनेवालों पर जबरदस्त कार्रवाई की थी। विभाग ने ढाई महीने में शराबबंदी कानून के तहत 535 मामले दर्ज कर 550 आरोपियों पर कार्रवाई की थी। आरोपियों से 60 लाख 8 हजार 720 रुपए की शराब व अन्य सामान जब्त किया गया था। इसके अलावा हाथभट्‌ठी की शराब व उसे बनाने में इस्तेमाल होनेवाला सामान भी जब्त किया था। हाथभट्‌ठी की शराब बनाने में इस्तेमाल होनेवाला 600 किलो कालागुड़ जब्त किया था, जिसकी कीमत 36 हजार रुपए थी। 137 आरोपियों पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की गई थी। विभाग की कार्रवाई से लाखों रुपए का राजस्व सरकार को प्राप्त हुआ। 

मिले थे 100 होमगार्ड व 12 वाहन 

आचार संहिता के दौरान जिलाधीश की तरफ से एक्साइज विभाग को कार्रवाई में मदद के लिए 100 होमगार्ड व 12 वाहन दिए गए थे। रिकार्ड तोड़ कार्रवाई करने में विभाग को होमगार्ड जवानों की काफी मदद मिली थी। चुनाव खत्म होने के बाद होमगार्ड व वाहन दोनों वापस ले लिए गए। 

डिटेक्शन बढ़ा हुआ   

चुनावी आचार संहिता में रिकार्ड तोड़ कार्रवाई की कार्रवाई अभी जारी है। गत वर्ष की तुलना इस साल हर महीने डिटेक्शन बढ़ा हुआ है। अवैध शराब विक्रेताओं पर निरंतर कार्रवाई हो रही है। गत वर्ष के आंकड़ों से इस साल डिटेक्शन के आंकड़े बढ़े हुए हैं। शराब की तस्करी के कई मामले उजागर किए गए हैं। हाल ही में एमपी की गोवा ब्रांड शराब पकड़कर शराब तस्करी के कारोबार का पर्दाफाश किया गया है।  -प्रमोद सोनोने, अधीक्षक, स्टेट एक्साइज विभाग नागपुर 

खबरें और भी हैं...