• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Referee Corona infected two real brothers from Satna got admission in Rewa Medical after 18 hours

दैनिक भास्कर हिंदी: सतना से रेफर कोरोना संक्रमित दो सगे भाइयों को 18 घंटे बाद रीवा मेडिकल में मिला एडमिशन

April 15th, 2021

डिजिटलय डेस्क सतना । जिले के देवराज नगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से 13 अप्रैल की रात रीवा रेफर किए गए कोरोना संक्रमित दो सगे भाइयों को मेडिकल कालेज ने भर्ती करने से इंकार कर दिया। दोनों संक्रमितों ने मेडिकल कालेज की पार्किंग में ही रात गुजारी। सुबह फिर से दाखिले के लिए पहुंचे। आरोप है कि बावजूद इसके उन्हें बाहरी पेशेंट बता कर दाखिला नहीं दिया गया। परिजनों ने राज्यमंत्री और क्षेत्रीय विधायक रामखेलावन पटेल से संपर्क कर मदद की गुहार लगाई लगाई लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। उल्लेखनीय है राज्यमंत्री रामखेलावन सतना-रीवा के अलावा सिंगरौली जिले के कोविड-19 के निगरानी मामलों के प्रभारी मंत्री भी हैं।   
अंतत: दोनों संक्रमित रीवा से बस में बैठकर देवराज नगर लौट आए। इन्हीं में से एक की हालत इस कदर खराब थी कि एक संक्रमित बस स्टैंड में गिर कर बेहोश हो गया। इत्तेफाक यह था कि उसी वक्त देवराजनगर शासकीय अस्पताल के एक पैरामेडिकल स्टाफ सचिन दाहिया की उस पर नजर पड़ी। सचिन ने दोनों को अस्पताल पहुंचाया। और इस तरह दोनों कोरोना संक्रमित जिस अस्पताल से रीवा गए थे, उसी अस्पताल में एक बार फिर से पहुंच गए। रेफर किए गए कोरोना संक्रमितों को रीवा मेडिकल कालेज में लेने से इंकार की खबर बीएमओ डा.आलोक अवधिया ने सीएमएचओ डा.एके अवधिया को दी गई।
और इस तरह से गंभीर मामला कलेक्टर अजय कटेसरिया के संज्ञान में आया। कलेक्टर ने रीवा मेडिकल कालेज के डीन डा.मनोज इंदुलकर से बात की। डीन की हामी भरने पर दोनों संक्रमित सगे भाइयों को एक बार फिर से देवराजनगर अस्पताल से रीवा रेफर किया गया। अंतत: 18 घंटे बाद बुधवार को शाम 6 बजे दोनों को मेडिकल कालेज में दाखिला मिला। 
परिवार में है 4 पेशेंट :--- 
संक्रमण के कारण रीवा मेडिकल कालेज के इन दो सगे भाइयों के परिवार के 2 अन्य सदस्यों में भी संक्रमण की पुष्टि हुई है। दो अन्य घर में ही आइसोलेट होकर इलाज ले रहे हैं। बताया गया है कि यह परिवार 6 दिन पहले निमंत्रण में कटनी बरही (कटनी) गया हुआ था। दो दिन बाद इनकी तबीयत बिगड़ी। टेस्ट रिपोर्ट पाजिटिव आईं। इन्हीं में से दो सगे भाइयों को देवराजनगर सामुदायिक अस्पताल में भर्ती कराया गया। 
इनका कहना है :-----
1- मामला हमारे संज्ञान में आया है। हमने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि भविष्य में ऐसी दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति नहीं बननी चाहिए। लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। 
रामखेलावन पटेल, राज्यमंत्री (सतना-रीवा और सिंगरौली की कोविड मानीटरिंग के प्रभारी मंत्री)
2- गलत फहमी हुई होगी। किसी भी मरीज को मेडिकल कालेज के स्टाफ ने वापस जाने को नहीं कहा है। इस संबंध में हमने मेडिकल कालेज प्रबंधन से चर्चा की है। संबंधित मरीज भर्ती हैं। 
डा.इलैय्याराजा टी, कलेक्टर रीवा   
3- मामला संज्ञान में आते ही हमारी  रीवा मेडिकल कालेज के डीन से बात हुई  है। दोनों संक्रमितों को इलाज के लिए भर्ती कर लिया गया है। 
अजय कटेसरिया,कलेक्टर सतना
 

खबरें और भी हैं...