दैनिक भास्कर हिंदी: महाराष्ट्र के 25 जिलों में मिल सकती है पाबंदियों में ढील, जानिए - कोरोना के ताजा आंकड़े

July 28th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रदेश में कम कोरोना संक्रमण दर वाले 25 जिलों में लागू कोविड की तीसरे स्तर की पाबंदियों में ढील देने के बारे में दो दिनों में फैसला हो सकता है। इन जिलों में दुकानों को सप्ताह में छह दिन तक खोलने की मंजूरी दी जा सकती है। कोरोना टीके की दोनों डोज लेने वाले लोगों को होटल और रेस्टोरेंट, लोकल ट्रेनों और जीम में प्रवेश की अनुमति दी जा सकती है। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने यह जानकारी दी। बुधवार को राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में कोरोना की स्थिति को लेकर चर्चा हुई। इसके बाद टोपे ने कहा कि कोरोना की पाबंदियों में ढील देने के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के पास फाइल भेजी जाएगी। फिर  मुख्यमंत्री रियायत देने के बारे में अंतिम फैसला करेंगे। टोपे ने कहा कि प्रदेश के 11 जिलों में कोरोना संक्रमण दर राज्य की औसत संक्रमण दर से अधिक है। इसलिए इन 11 जिलों में पाबंदियों में कोई छूट नहीं दी जाएगी। लेकिन बाकी के 25 जिलों में पाबंदियों में ढील दी जाएगी। टोपे ने कहा कि मुंबई के उपनगरीय लोकल ट्रेनों में कोरोना का दोनों टीका लगा चुके लोगों को यात्रा की अनुमति देने का सुझाव स्वास्थ्य विभाग ने मुख्यमंत्री को दिया है। टोपे ने कहा कि कोरोना महामारी की तीसरी लहर की संभावना के बीच तैयारी शुरू कर दी है। लेकिन तीसरी लहर को टालने के लिए लोगों को कोरोना के नियमों का पालन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि विश्व के कई देशों में कोरोना की तीसरी लहर देखने की मिल रही है। इन देशों में टीकाकरण होने से कोरोना के मामले ज्यादा गंभीर नहीं नजर नहीं आ रहे हैं। 

सी और डी वर्ग नगर निकायों में कर्मियों को 50 लाख का बीमा कवच 

प्रदेश के सी और डी वर्ग के महानगर पालिकाओं, नगर पंचायतों और नगर परिषदों के कोविड की सेवा देते समय मृत हुए अधिकारियों और कर्मचारियों को 50 लाख रुपए का बीमा कवच लागू होगा। बुधवार को राज्य मंत्रिमंडल ने यह फैसला लिया है।  इससे अधिकारियों और कर्मचारियों के कोरोना की सेवा के दौरान मृत होने पर उनके परिजनों को 50 लाख रुपए बीमा का लाभ मिल सकेगा। मंत्रिमंडल के फैसले के अनुसार ए और बी वर्ग के महानगर पालिकाओं को छोड़कर अन्य सभी नगर परिषद और नगर पंचायतों में यह योजना लागू होगा। इसी तरह सफाई कर्मचारियों, ठेके, मानधन और आउटसोर्सिंग के जरिए नियुक्त कर्मचारियों को इस योजना में शामिल किया गया है। 

नागपुर में फिर शून्य मौत, 6 नए मरीज


नागपुर जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या कम हो गई है। पिछले 10 दिन से लगातार शहर में मौत का आंकड़ा शून्य था। 11वें दिन मंगलवार को एक शहर में एक मरीज की मौत हुई। इसके बाद बुधवार को फिर मौत का आंकड़ा शून्य रहा। इसके साथ ही जिले में पिछले 24 घंटे में सिर्फ 6 नए मरीज मिले। 7031 नमूनों की जांच की गई। 20 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे। रिकवरी दर अब 97.91 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटे में जिले में 20 मरीज डिस्चार्ज किए गए। इनमें होम आइसोलेट मरीज भी शामिल हैं। इसके साथ ही कुल डिस्चार्ज मरीजों की संख्या 4,82,518 हो गई है। वर्तमान में 208 मरीज एक्टिव हैं। इसमें 47 मरीज ग्रामीण और 157 शहर और 4 जिले के बाहर के हैं। 161 होम आइसोलेट हैं। 47 कोविड केयर सेंटर, अस्पतालों में भर्ती हैं।

स्वस्थ हुए 38 और 35 पॉजिटिव मिले

पिछले 24 घंटे में विदर्भ के 6 जिलों में कोरोना के कुल 35 मरीज मिले और 38 लोग स्वस्थ हुए। वहीं भंडारा में एक भी मरीज नहीं पाया गया। अमरावती, वर्धा, यवतमाल, चंद्रपुर, गड़चिरोली और गोंदिया में क्रमश 9, 4, 5, 5, 9, 3 संक्रमित मिले। वहीं अमरावती में 10, वर्धा 2, यवतमाल 2, चंद्रपुर 19 और गड़चिरोली में 5 मरीज स्वस्थ हुए।

अकोला, बुलढाणा, वाशिम में कोई नई मौत नहीं; मिले 7 पॉजिटिव

अकोला जिले में बुधवार को कोरोना के 3 नए संक्रमित मिलने से कुल चिन्हित संख्या 57,758 हो गई है। नई मौत दर्ज न होने से मृतकों का आंकड़ा 1,134 पर स्थिर रहा। 6 स्वस्थ होने से यह संख्या 56,571 पर पहुंच गई है। 53 एक्टिव मरीजों पर इलाज जारी है।

बुलढाणा जिले में बुधवार को केवल 1 नया संक्रमित मिलने से कुल चिन्हित मरीजों की संख्या 90,188 हो गई है। नई मौत दर्ज न होने से मृतकों का आंकड़ा 672 पर स्थिर है। बुधवार को किसी मरीज को डिस्चार्ज न मिलने से ठीक हो चुके लोगों की संख्या 87,552 पर स्थिर रहीं। 23 एक्टिव मरीजों पर उपचार चल रहा है। 

वाशिम जिले में बुधवार को पुन: 3 नए कोरोना केस पाए जाने से कुल चिन्हित संक्रमित 41,651 हो गए हैं। गत दिनों जिले के बाहर हुई 13 कोरोना बाधितों की मौत का पंजीयन पोर्टल पर दर्ज करवाने से मृतकों का आंकड़ा 635 पर पहुंच गया। 4 लोगों के ठीक हो जाने से स्वस्थ हो चुके लोगों की संख्या 40,980 पर पहुंच गई है। 35 एक्टिव मरीजों का उपचार शुरु है। 

 

खबरें और भी हैं...