दैनिक भास्कर हिंदी: पेट्रोल पंप  पर डकैती, चौकीदार की हत्या कर 13.50 लाख लूटे

April 30th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। नंदनवन थानांतर्गत बीती रात गुरुदेव नगर में एक पेट्रोल पंप पर डकैतों ने धावा बोलकर वहां के चौकीदार की हत्या कर दी। मृतक का नाम  नूर खां (73) हसनबाग निवासी है। खान की हत्या के बाद लुटेरे लॉकर में रखने 13.50 रुपए लूट कर फरार हो गए। बताया जाता है कि लुटेरों ने नूर खां की रॉड से हमला कर हत्या की। घटना का खुलासा सोमवार की सुबह करीब 6 बजे तब हुआ जब पेट्रोल पंप के कर्मचारी पेट्रोल पंप पर डयूटी पर पहुंचे।  

घटना की सूचना नंदनवन पुलिस को दी गई। उसके बाद नंदनवन थाने की पुलिस घटनास्थल पहुंची। घटनास्थल पर फिंगर प्रिंट एक्सर्पट व श्वान दस्ते को बुलाया गया। पता चला है कि लुटेरे पेट्रोल पंप पर लगे सीसीसीटीवी कैमरे का डीवीआर भी साथ ले गए। इससे लुटेरे बेहद शातिर लग रहे हैं। वह अपने पीछे कोई सबूत छोड़कर नहीं गए हैं। आस-पास के भेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरे भी बंद पड़े थे।  

तीन दिन की कैश थी जमा
पुलिस सूत्रों के अनुसार हुसैन मुस्तफा अली नामक व्यक्ति का गुरुदेव नगर में पंचशील आटो मोबाइल नामक पेट्रोल पंप है। इस पेट्रोल पंप पर हसनबाग निवासी नूर खां की बीती रात डकैतों ने हमला कर हत्या कर दी। पेट्रोल पंप से डकैतों ने नगदी 13.50 लाख लूटकर फरार हो गए। लुटेरों ने वारदात को रात 1 से 1.30 बजे के बीच अंजाम दिया। लुटेरों की संख्या 4 से अधिक बताई जा रही है। रविवार की रात करीब 11 बजे पेट्रोल पंप बंद कर दिया गया।

दिन भर का हिसाब देकर सारे कर्मचारी अपने-अपने घर चले गुए पेट्रोल पंप के चौकीदार नूरखां पहरेदारी पर थे। खान इस पेट्रोल पंप पर करीब 15 सालों से चौकीदारी कर रहे थे। वह अपने कमरे में रात में सोए हुए थे। इस दौरान डकैतों ने पेट्रोल पंप पर धावा बोलकर उनकी हत्या कर दी और कमरे में रखी तिजोरी का लॉकर तोड़कर उसमें जमा नगदी उडाकर ले गए। नंदनवन पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है। 

टीप दिए जाने का संदेह
पुलिस सूत्रों का कहना है कि पेट्रोल पंप पर डकैती की वारदात करने वाले आरोपियों को टीप दी गई होगी। उसके आधार पर ही उन्होंने घटना को अंजाम दिया। शहर में 3 दिनों से बैंक बंद रहने के कारण 3 दिनों की सारी नगदी रकम आलमारी की तिजोरी में बंद कर रखी गई थी। जिसे डकैत चौकीदार की हत्या कर लूटकर ले गए। नंदनवन पुलिस ने आरोपियों की धरपकड़ के लिए अलग-अलग दस्ते तैयार किया है।