नागपुर : संघ मुख्यालय रेकी मामला, अब एटीएस के पाले में जांच

February 3rd, 2022

डिजिटल डेस्क, नागपुर। जैश-ए-मोहम्मद के संदिग्ध आतंकी द्वारा संघ मुख्यालय की रेकी मामले की जांच एटीएस को सौंप दी गई है, हालांकि प्रकरण से जुड़े दस्तावेज अभी जांच टीम को नहीं मिले हैं। जैश का संदिग्ध आतंकी रईस अहमद शेख असदुल्ला शेख जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले का निवासी है। गत वर्ष जुलाई महीने में वह श्रीनगर से मुंबई होते हुए फ्लाइट से नागपुर पहुंचा था। बर्डी स्थित एक होटल में रुका। 

स्थानीय व्यक्ति ने उसे संघ मुख्यालय की रेकी करने के मामले में मदद करने से इनकार किया। इसके बाद गूगल मैप के जरिए वह संघ मुख्यालय के पास पहुंचा। परिसर में शस्त्र जवानों का तगड़ा बंदोबस्त देखकर उसकी संघ मुख्यालय की फोटो या वीडियो बनाने की हिम्मत नहीं हुई। इसके बाद वह रेशमबाग में हेडगेवार स्मृति मंदिर पहुंचा। फोटो निकाली, लेकिन फोटो ठीक से नहीं निकली थी। फिर एक धार्मिक स्थल पर गया। ताबीज बांधा और वापस लौट गया।

दिसंबर महीने में जम्मू-कश्मीर में हैंड ग्रेनेड के साथ सुरक्षा बलों ने रईस को गिरफ्तार किया। पूछताछ में उसने जैश के ऑपरेशन कमांडर उमर के कहने पर नागपुर में संघ मुख्यालय की रेकी करने की बात बताई। इसके बाद कोतवाली थाने मंे रईस के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया। स्थानीय क्राइम ब्रांच समेत तीन एजेंसियां मामले की जांच-पड़ताल करने में जुटीं थीं। इस बीच महाराष्ट्र एटीएस को जांच सौंपी गई। लिहाजा, स्थानीय एटीएस की टीम मामले की जांच करेगी। स्थानीय सूत्रधार एटीएस के रडार पर है।

खबरें और भी हैं...