दैनिक भास्कर हिंदी: एक साल में 15 करोड़ रुपए से अधिक की सड़ी सुपारी की खपत, डेढ़ करोड़ से ज्यादा का गुटखा जब्त

January 15th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। एक साल में अन्न व औषधि विभाग ने नागपुर जिले में 15 करोड़ 97 लाख की सड़ी सुपारी जब्त की। वहीं 1 करोड़ 67 लाख से ज्यादा का प्रतिबंधित गुटखा जब्त किया। ग्रामीण क्षेत्र से ही 1 करोड़ 25 लाख रुपए की सड़ी सुपारी जब्त की गई है। गत कुछ वर्ष की तुलना यह कार्रवाई ज्यादा है। ऐसे में शहर में सड़ी सुपारी व गुटखा के अवैध कारोबार की पोल खुल रही है। नागपुर जिले में बड़े पैमाने पर सड़ी सुपारी आ रही है। वर्ष 2018 में शिकायत, छापामार कार्रवाई, सूचना के आधार पर एफडीए ने लगातार कार्रवाई की है, जिसमें बड़ी मात्रा में सड़ी सुपारी मिली है। 15 करोड़ 97 लाख 86 हजार की कुल सड़ी सुपारी पकड़ी गई। जांच के लिए भेजे गए अनेक सैंपल से इसकी पुष्टि भी हुई।

ऐसी सुपारी को अगरबत्ती कारखानों को बेच दिया गया, इससे मिलने वाला पैसा सरकार की तिजोरी में जमा किया गया। सड़ी सुपारी के व्यापार में ग्रामीण क्षेत्र भी पीछे नहीं है। कार्रवाई में 1 करोड़ 25 लाख रुपए की सुपारी ग्रामीण क्षेत्र में भी पकड़ी है। महाराष्ट्र राज्य में सुंगधित गुटखा बंद किए लंबा समय हो चुका है। बावजूद इसके दूसरे राज्यों से चोरी-छिपे गुटखे की तस्करी हो रही है। इस बात को एफडीए की कार्रवाई साबित करती है। गत वर्ष केवल नागपुर जिले से ही 1 करोड़ 67 लाख 14 हजार रुपए का गुटखा जब्त किया गया।

राशि सरकार को सौंप दी
शशिकांत केकर ज्वाइंट कमिश्नर एफडीए के मुताबिक लगातार कार्रवाई करते हुए गत वर्ष 15 करोड़ से ज्यादा सड़ी सुपारी पकड़ी है। जांच-पड़ताल के बाद कुछ रिलीज की है। दूसरी तरफ, सड़ी सुपारी को अगरबत्ती कारखानों में बेचकर मिली राशि सरकार को सौंप दी गई है। 

खबरें और भी हैं...