comScore

शादी का झांसा देकर युवती का करता रहा यौन शोषण, मां बनते ही छोड़कर भागा

शादी का झांसा देकर युवती का करता रहा यौन शोषण, मां बनते ही छोड़कर भागा

डिजिटल डेस्क, नागपुर। शादी का दिखावा कर करीब एक साल तक युवती का यौन शोषण किया और युवती के मां बनने के बाद  नवजात शिशु के साथ  छोड़कर युवक भाग गया। युवती की शिकायत पर  आरोपी युवक के खिलाफ अजनी थाने में दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है।

जानकारी के अनुसार मध्यप्रदेश के बालाघाट जिला निवासी शैलेष राजेश पंडवार (25) रोजी-रोटी की तलाश में नागपुर आया हुआ था और अजनी थाना क्षेत्र में किराए के कमरे रहता था। इस बीच शैलेष की पहचान ऑटो चालक महिला से हुई। महिला के घर उसका आना-जाना शुरू हो गया। इस दौरान महिला की 20 वर्षीय बेटी और शैलेष के बीच में प्रेम संबंध स्थापित हुए। 1 सितंबर 2018 को शैलेष ने युुवती की मांग भरकर शादी का दिखावा किया और एक वर्ष तक उसका याैन शोषण करता रहा। युवती गर्भवती हुई। उसने एक शिशु को जन्म दिया। इसके बाद युवती और उसके बच्चे को छोड़कर शैलेष भाग गया । खोजबीन के बाद भी शैलेष का पता नहीं चलने पर युवती बच्चे के साथ थाने पहुंची और शैलेष के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया। जांच जारी है। सहायक उप-निरीक्षक पाटील ने प्रकरण दर्ज किया है।

चरित्र पर संदेह कर पत्नी को जिंदा जलाने का प्रयास

एमआईड़ीसी थानांतर्गत चरित्र संदेह में पत्नी को जिंदा जलाने का प्रयास किया गया। आरोपी पति के खिलाफ हत्या के प्रयास का प्रकरण दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया गया है। इंदिरा नगर निवासी आरती (29) नामक महिला की करीब पांच माहब पहले अनिल हंसराज उईके (29) नामक व्यक्ति से शादी हुई। शादी के चंद दिनों बाद अनिल आरती के चरित्र पर संदेह करने लगा। जिसके चलते  रोजाना उसके साथ गाली-गलौज व मारपीट करता था। 26 सितंबर की रात को भी दोनों में  इसी बात को लेकर विवाद हुआ। अनिल ने गाली गलौज की तो आरती ने उसे फटकार लगाई। इससे तैश में आकर अनिल ने आरती के साड़ी को आग लगाई। आरती बाल-बाल बच गई। मामले की शिकायत संबंधित थाने में की गई। जांच पड़ताल में पुष्टि होने पर  अनिल के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर उसे िगरफ्तार कर लिया गया। जंाच जारी है। 

कमेंट करें
drP2g