comScore

शहडोल: हत्या के 6आरोपियों को आजीवन कारावास

शहडोल: हत्या के 6आरोपियों को आजीवन कारावास

डिजिटल डेस्क, शहडोल। हत्या के 10 साल पुराने मामले में अपर सत्र न्यायाधीश ब्यौहारी द्वारा 6 आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है। इसके साथ ही सभी आरोपियों पर 1-1 हजार का जुर्माना भी लगाया है।

इनको सुनाई सजा-
सोमवार को पारित निर्णय में न्यायाधीश द्वारा अभियुक्तगण दिलीप कुमार चतुर्वेदी 38 वर्ष निवासी ग्राम करकछ, विनोद कुमार चतुर्वेदी 34 वर्ष निवासी ग्राम देवगांव, संतोष कुमार पटेल 40 वर्ष ग्राम तेंदुआड, अनिल कुमार खैरवार उर्फ भैया 38 वर्ष निवासी ग्राम खामडांड, अजय कुमार खैरवार उर्फ बिल्लू 37 वर्ष निवासी तेदुआड तथा रीतेश कुमार पयासी उर्फ रिंकू 32 वर्ष निवासी देवगांव को भादवि की धारा 302 में आजीवन कारावास एवं 1-1 हजार रुपये का अर्थदण्ड, धारा 201 में 7-7 वर्ष का सश्रम कारावास व 1-1 हजार अर्थदण्ड तथा 25 (1) (बी) में 1-1 वर्ष का सश्रम कारावास व 5-5 सौ रुपये के अर्थदण्ड की सजा सुनाई गई।

यह था पूरा मामला-
मीडिया सेल प्रभारी नवीन कुमार वर्मा एडीपीओ द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार रेलवे स्टेशन ब्यौहारी के चौकीदार शिवप्रसाद साहू ने 19 अक्टूबर 2008 को रेलवे ट्रेक पर झरौसी के पास रात्रि के समय एक अज्ञात की कटकर मौत की सूचना पुलिस में दी थी। बाद में शव की पहचान राजेश चतुर्वेदी निवासी ग्राम बरकछ के रूप में की गई। पुलिस विवेचना में पाया गया कि मृतक के परिवार के दिलीप चतुर्वेदी से पुराना विवाद चल रहा था। घटना के दिन शाम को अभियुक्त दिलीप ने राजेश को बाइक से ससुराल ग्राम बनसुकली चलने को कहकर अपने साथ ले गया था। दोनों की ससुराल एक ही गांव में थी। उसके बाद 19 अक्टूबर की सुबह राजेश की लाश पटरी पर पाई गई। मृतक के सिर, गर्दन व पीठ पर धारदार हथियार से चोट मिलने पर मर्ग जांच के बाद हत्या का मामला दर्ज किया गया।

विवेचना के बाद हुआ खुलासा-
विवेचना में पाया गया कि पुराने साथी संतोष पटेल, अनिल, विनोद, अजय, रीतेश के साथ योजना बनाकर दिलीप द्वारा रात के समय झरौसी गांव में दादू पटेल के खेत मे सूनसान जगह पर तलवार, कट्टा, कुल्हाडी, डंडा और बका से हत्या कर मैक्स वाहन से शव ले जाकर रेलवे पटरी पर फेंक दिया। प्रकरण में अभियोजन की ओर से आरके चतुवे्रदी अतिरिक्त जिला लोक अभियोजन अधिकारी ब्यौहारी द्वारा पैरवी की गई।

कमेंट करें
3KZ8z