दैनिक भास्कर हिंदी: शिवराज का तंज- महलों में रहने वाले उद्योगपति आज किसानों की चिंता कर रहे

June 7th, 2018

डिजिटल डेस्क, छिंदवाड़ा। किसान आंदोलन और मंदसौर में कांग्रेस के प्रदर्शन का जवाब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अमरवाड़ा में दिया। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि जिन्होंने अपनी सरकार में गेहूं, चना और मसूर का एक दाना भी नहीं खरीदा और जिन्हें लहसुन-प्यास में फर्क नहीं मालूम वे आज किसान-किसान कर रहे हैं। जहां श्रद्धांजलि देनी चाहिए वहां फसल काटने की कोशिश कर रहे हैं। वे नकली किसान बनने की कोशिश कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि महलों में पैदा हुए, उद्योग चलाने वाले और विदेशों की दौड़ लगाने वाले आज किसानों की चिंता कर रहे हैं। उन्होंने किसानों से कहा कि वे चिंता न करें भाजपा की सरकार उनकी उपज की पूरी कीमत देगी। मैं तुम्हारी जिंदगी में नया सवेरा लाउंगा। गुरुवार को मुख्यमंत्री श्री चौहान अमरवाड़ा में आयोजित तेंदूपत्ता संग्राहक और असंगठित श्रमिक सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस गरीबी हटाओ कहते रही लेकिन गरीबी नहीं हटी। तीसरी बार जब जनता ने उन्हें मुख्यमंत्री बनाया तो गरीबों को एक रुपए किलो गेहूं, एक रुपए किलो चावल और एक रुपए किलो नमक उपलब्ध कराने की योजना बनाई। उन्होंने लोगों से पूछा कि क्या कांग्रेस ने पहले दिया था।

श्री चौहान ने आगामी 13 जून से लागू होने वाली मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना की जानकारी दी। कहा कि इस योजना में गरीब, मजदूर, किसान को जन्म से लेकर मृत्यु तक का ध्यान रखा गया है। उन्होंने कहा कि जिन किसानों ने 1735 रुपए प्रति क्विंटल की दर से गेहूं बेचा है, सरकार 10 जून को उनके खाते में 265 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से राशि डालने वाली है। छिंदवाड़ा जिले के किसानों को 40 करोड़ रुपए दिए जाएंगे।

सम्मेलन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने 25 हजार 370 तेंदूपत्ता संग्राहकों को पौने सात करोड़ का बोनस, 32 हजार संग्राहक परिवारों को साड़ी, जूते-चप्पल और वाटर बैग का वितरण किया। उन्होंने जिले के 6 लाख 57 हजार असंगठित श्रमिकों को अधिकार पत्र का वितरण के साथ ही करीब 80 करोड़ के निर्माण कार्यों का लोकार्पण व भूमिपूजन किया।