comScore

6 नक्सलियों ने डाले हथियार, 32 लाख 50 हजार का था इनाम

6 नक्सलियों ने डाले हथियार, 32 लाख 50 हजार का था इनाम

डिजिटल डेस्क, गड़चिरोली। नक्सलियों के शहीद सप्ताह के पूर्व गड़चिरोली जिला पुलिस विभाग को एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई है। 32 लाख 50 हजार रूपयों के इनामी 6 नक्सलियों ने अपने हथियार डालकर जिला पुलिस के समक्ष सरेंडर किया हैं। इस बात की अधिकारिक घोषणा शनिवार को एक पत्र परिषद के माध्यम से पुलिस अधीक्षक शैलेश बलकवडे ने की। समर्पितों में एक डीवीसी कमांडर समेत 2 पुरूषों व 4 महिला नक्सली शामिल हैं।  इसमें एक गर्भवती नक्सली भी शामिल होने की जानकारी मिली है। 
 
आत्मसमर्पित नक्सलियों में कंपनी क्रमांक 4 में डीवीसी पद पर कार्यरत 4  लाख 50 हजार रूपये इनामी गोकुल उर्फ संजु सन्नु मडावी (30), प्लाटून दलम क्रमांक 1 का सदस्य रतन उर्फ मुन्ना भिकारी कुंजामी (22), कंपनी क्रमांक 4 में कार्यरत सरिता उर्फ मुक्ती मासा कल्लो (20), भामरागढ़ दलम सदस्य शैला उर्फ राजे मंगलु हेडो (20), भामरागढ़ दलम में एसीएम पद पर कार्यरत जरीना उर्फ शांति दानु होयामी (29) और भामरागढ़ दलम सदस्य मीना धुर्वा (22 शामिल हैं। इस संदर्भ में विस्तृत जानकारी देते हुए एसपी बलकवडे ने बताया कि, गत दिनों नक्सली नेता नर्मदक्का और उसके पति किरणकुमार की गिरफ्तारी के बाद नक्सल आंदोलन पूरी तरह बैकफुट पर है। इसी कारण दलम में कार्यरत नक्सली बड़े पैमाने पर आत्मसमर्पण कर रहे हैं। कंपनी क्रमांक 4 में डीवीसी कमांडर पद पर कार्यरत नक्सली गोकुल पर सरकार ने 8 लाख 50  हजार रूपये का इनाम रखा था। वह नवंबर 2005 में पेरमिली दलम में शामिल हुआ। उस पर 15 मुठभेड़, 3 हत्या व 6 ब्लास्टिंग के मामले दर्ज है।

22 वर्षीय नक्सली रतन पर 5 लाख रूपये का इनाम है।  वह सितंबर 2014 से नक्सली दलम में कार्यरत है। उसने अब तक सांड्रा, प्लाटून दलम में कार्य किया है। उसका कार्यक्षेत्र छत्तीसगढ़ राज्य के मद्देड़ इलाके में होने से उस पर छग राज्य में भी कई मामले दर्ज है। नवंबर 2013  में भामरागढ़ दलम में शामिल हुई सरिता पर सरकार ने 5 लाख रूपयों का इनाम घोषित किया है। नवंबर 2014  से वह प्लाटून दलम में सदस्य के रूप में कार्यरत है। दादापुर की आगजनी में उसका सक्रिय सहभाग था। 4 लाख 50 हजार रूपये इनामी शैला हेड़ो भामरागढ़ दलम सदस्य होकर उस पर 3 मुठभेड़, 1 हत्या, 3 आगजनी के मामले दर्ज है। वहीं 5 लाख रूपये इनामी जरीना होयामी भामरागढ़ दलम में एसीएम पद पर कार्यरत थी। उस पर विभिन्न प्रकार के 19 मामले दर्ज है। जनवरी 2018 से भामरागढ़ दलम में सदस्य के रूप में कार्यरत मिना धुर्वा पर सरकार ने 4 लाख 50 हजार रूपयों का इनाम घोषित किया है। उस पर भी दर्जनों मामले दर्ज होने की जानकारी एसपी बलकवडे ने दी। यहां बता दें कि, रविवार से नक्सलियों का शहीद सप्ताह आरंभ होने जा रहा है। सप्ताह के पूर्व ही पुलिस विभाग को मिली इस बड़ी कामयाबी के चलते नक्सली आंदोलन एक बार फिर बैकफुट पर जाते दिखायी दे रहा है। सप्ताह के मद्देनजर जिले में तैनात पुलिस जवानों को सतर्कता बरतने की चेतावनी भी जारी कर दी गयी है। 

धर धानोरा में मिले नक्सली बैनर 

शनिवार की सुबह धानोरा-मुरूमगांव महामार्ग के अनेक स्थानों पर नक्सलियों ने बैनर लगाकर नक्सली शहीदी सप्ताह मनाने का आह्वान किया है। बता दें कि, 28 जुलाई से 3 अगस्त के बीच प्रति वर्ष नक्सलियों द्वारा शहीदी सप्ताह मनाया जाता है। सप्ताह के दौरान विध्वसंक घटनाओं को अंजाम देकर मारे गये नक्सली साथियों की याद में स्मारकों का निर्माण किया जाता है। धानोरा-मुरूमगांव महामार्ग पर सालेभट्टी ग्राम, वडग़ांव और जपतलाई आदि गांवों के इलाके में नक्सलियों ने बैनर लगाए है। पुलिस को जानकारी मिलते ही बड़े ही ऐतिहात के साथ बैनरों को जब्त किया गया। 

आदिवासी विकास सप्ताह के रूप में मनेगा शहीद सप्ताह 

28 जुलाई से 3 अगस्त के बीच नक्सलियों द्वारा जिले में शहीद सप्ताह मनाया जाएगा। इस दौरान ग्रामीणों में दहशत निर्माण करने का प्रयास भी होगा। लेकिन इस दहशत को दूर करने के लिए पुलिस विभाग आदिवासी विकास सप्ताह के रूप में यह सप्ताह मनाएगा। सप्ताह के दौरान ग्रामभेंट, जनजागरण सम्मेलन, जनमैत्रेय सम्मेलनों के माध्यम से लोगों को विभिन्न योजनाओं का लाभ दिया जाएगा। साथ ही नक्सली दहशत को दूर करने विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन भी इस दौरान किया जाएगा। नक्सली करतूतों को खत्म करने के लिए विशेष अभियान के जवानों को पहले से ही सीमावर्ती इलाकों में तैनात किया जा चुका है।  शैलेश बलकवडे  जिला पुलिस अधीक्षक, गड़चिरोली
 

कमेंट करें
oFkpX