दैनिक भास्कर हिंदी: गरीबी में आटा गीला: नागपुर-छिंदवाड़ा रेल शुरू होने से एसटी की आमदनी होगी प्रभावित

February 21st, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। इसी महीने में नागपुर से छिंदवाड़ा ब्राडगेज लाइन का शुभारंभ होने जा रहा है। इतवारी से छिंदवाड़ा के लिए पहली बार पैसेंजर ट्रेन चलाई जाएगी। ऐसे में एसटी बसों के यात्री इस ओर रुख कर सकते हैं। जिससे एसटी महामंडल को प्रतिमाह 12 लाख से ज्यादा का नुकसान सहना पड़ सकता है। यदि ऐसा होता है, तो पहले से नुकसान में चलने वाली एसटी बसों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। नागपुर से छिंदवाड़ा के लिए प्रतिदिन बड़ी संख्या में यात्रियों का आवागमन होता है। यही कारण है, कि छोटी लाइन पर भी प्रतिदिन 5 हजार से ज्यादा यात्री निर्भर रहते थे, लेकिन इसके बाद इस लाइन को ब्राडगेज के लिए बंद कर दिया गया। यात्रियों के पास कोई दूसरा विकल्प नहीं होने से सभी ने एसटी बसों की ओर रुख किया। यही कारण है, कि प्रतिदिन नागपुर गणेशपेठ बस स्टैंड से विभिन्न डिपो के मिलाकर आधा दर्जन बसों को छिंदवाड़ा के लिए चलाया जाता है।

वहीं इतनी ही बसें छिंदवाड़ा से नागपुर वापसी करती हैं। एक दिन में आधा दर्जन बसों के माध्यम से 36 हजार से ऊपर की कमाई विभाग को होती है, जो महीने के आखिर तक 2 लाख रुपए के आस-पास पहुंच जाती है। इससे मंडल का राजस्व बढ़ने में मदद मिलती है। लेकिन हाल ही में नागपुर-छिंदवाड़ा लाइन से पैसेंजर ट्रेन चलाने की घोषणा हुई है। 22 फरवरी से इतवारी से छिंदवाड़ा व छिंदवाड़ा से इतवारी के लिए पैसेंजर ट्रेन चलाई जाएगी। जिसका किराया एसटी बसों से कम होगा।