दैनिक भास्कर हिंदी: गडचिरोली में चार नक्सलियों का आत्मसमर्पण- एटापल्ली में पुलिस से मुठभेड़, छत्तीसगढ़ में विस्फोट

March 23rd, 2021

डिजिटल डेस्क, गडचिरोली। जहां छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित नारायणपुर जिले में नक्सलियों ने जवानों से भरी बस को बारूदी सुरंग से उड़ा दिया। वहीं महाराष्ट्र के गड़चिरोली जिले में कार्यरत चार नक्सलियों ने जिला पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। यह जानकारी मंगलवार को आयोजित संवाददाता सम्मेलन में जिला पुलिस अधीक्षक अंकित गोयल ने दी। उनमें एक दम्पति शामिल है। सरकार ने इन नक्सलियों पर 22 लाख रुपए का इनाम रखा था। ऐसी जानकारी भी उन्होंने दी। नक्सलियों में धानोरा तहसील के पुलकोड़ो गांव निवासी दिनेश ऊर्फ दयाराम मंगर नैताम (28), छत्तीसगढ़ के कोहका निवासी नकुल ऊर्फ सुखालुराम डुमा  मड़ावी (35), एटापल्ली तहसील के  एटावाही निवासी निला रूपी कुमरे (34) और कुरखेड़ा तहसील के पुस्टोला निवासी शरद ऊर्फ रमेश ऊर्फ गोविंदा सामजी आतला (26) का समावेश है। इनमें नकुल और निला दम्पति है। 

 
पुलिस और नक्सलियों में मुठभेड़
 
उधर एटापल्ली तहसील के गुंडजुर जंगल क्षेत्र में नक्सलियों और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ में कोई हताहत नहीं हुआ। मंगलवार सुबह इस घटना की पुष्टि जिला पुलिस अधीक्षक अंकित गोयल ने की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, एटापल्ली तहसील के हेडरी पुलिस उपविभाग के गट्टा (जां) पुलिस सहायता केंद्र अंतर्गत गुंडजुर जंगल क्षेत्र में पुलिस जवानों द्वारा नक्सल विरोधी अभियान चलाया जा रहा था। इसी बीच जंगल में घात लगाकर बैठे नक्सलियोंं ने पुलिस जवानों पर अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी। जवाबी हमले में पुलिस जवानों ने भी गोलियां चलाई। पुलिस का बढ़ता दबाव देख नक्सली घने जंगल में भाग गए।   

IED से विस्फोट

उधर छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में मंगलवार को नक्सली हमले की खबर आई। जहां नक्सलियों ने जवानों से भरी सुरक्षाबलों की बस को बारूदी सुरंग में IED से विस्फोट कर उड़ा दिया। घटना में 5 जवान शहीद हो गए, जबकि अन्य 14 जवान घायल हैं। ब्लास्ट के दौरान बस में 24 जवान सवार थे। सूचना मिलते ही बैकअप फोर्स को मौके पर रवाना कर दिया गया है।