comScore

बनते-बनते रह गई सरकार, मुंह मीठा किया नहीं फोड़ पाए पटाखे

November 11th, 2019 22:42 IST
बनते-बनते रह गई सरकार, मुंह मीठा किया नहीं फोड़ पाए पटाखे

डिजिटल डेस्क, नागपुर। शिवसेना के नेतृत्व में राज्य में सरकार गठन के आसार देख स्थानीय शिवसैनिक गदगद हुए। जमकर आतिशबाजी करने की तैयारी थी। पटाखे व मिठाई तैयार थी। मुंह मीठा भी किया गया। लेकिन कुछ समय में ही स्थिति बदल गई। शिवसेना का राजनीतिक गेम होते देख शिवसैनिकों का उत्साह धरा रह गया। कार्यकर्ता अपने अपने घरों को चले गए। शाम से ही चल रहे मुंबई में चल रहे राजनीतिक घटनाक्रमों को देख स्थानीय शिवसेना कार्यकर्ता खुश थे। शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे व युवा सेना के अध्यक्ष आदित्य ठाकरे राज्यपाल भगतसिंह कोशियारी से मिलने गए थे। स्थानीय शिवसेना कार्यकर्ताओं ने आतिशबाजी की तैयारी की थी। गणेशपेठ स्थित शिवसेना भवन में जिला प्रमुख प्रकाश जाधव के साथ कार्यकर्ता एकत्र हुए थे। पटाखे व मिठाई लाकर रखी गई थी। शहर प्रमुख राजू तुमसरे , मंगेश कड़व, सुनील बैनर्जी, अक्षय मेश्राम, किशोर ठाकरे, मुल्लासिंह गौर व अन्य कार्यकर्ता भी थे। लेकिन जैसे ही समाचार चैनल पर आदित्य ठाकरे की संवाद माध्यम से चर्चा की खबर आयी, शिवसेना कार्यकर्ताओं ने उत्सव मनाना छोड़ दिया। ठाकरे ने कहा था कि उन्हें अन्य दलों का समर्थन पत्र नहीं मिल पाया है। शिवसेना कार्यकर्ता आपस में मिठाई खिलाकर अपने घरों के लिए रवाना हो गए। उधर शिवसेना के शहर समन्वयक नितीन तिवारी ने महालगीनगर चौक में उत्सव मनाने की तैयारी की थी। चौक में पटाखे व मिठाई के साथ कार्यकर्ता भी पहुंच गए थे। पुलिस बंदोबस्त की तैयारी चली रही थी। दक्षिण नागपुर के कई कार्यकर्ता पहुंच चुके थे। खबर यह भी है कि पटाखे फूटने शुरु हो गए थे। लेकिन शिवसेना के सरकार गठन के प्रयासों में बाधा का समाचार आते ही कार्यकर्ता चाैक से लौट गए। मिठाई भी नहीं बांटी गई। युवा सेना के शहर अध्यक्ष हितेश यादव व अन्य कार्यकर्ता भी उत्सव मनाने की तैयारी करते रह गए।

कमेंट करें
HQOyl