comScore

एक जैसे ही हैं श्वसन संबंधी गंभीर बीमारी और कोरोना के लक्षण, सावधानी में ही सुरक्षा

एक जैसे ही हैं श्वसन संबंधी गंभीर बीमारी और कोरोना के लक्षण, सावधानी में ही सुरक्षा

डिजिटल डेस्क, नागपुर। श्वसन संबंधी गंभीर बीमारी (सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी इलनेस) के छह मरीज अब तक कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं। कोरोना हॉटस्पॉट के बाहर के इलाके से श्वसन संबंधी गंभीर बीमारी से ग्रस्त लोगों के कोविड 19 पॉजिटिव आने से प्रशासन के सामने नई चुनौती आ खड़ी हुई है। मेडिकल के डॉ सुशांत मेश्राम, विभाग प्रमुख पल्मोनरी मेडिसिन के अनुसार श्वसन संबंधी गंभीर बीमारियों और कोरोना के लक्षणों में काफी समानता है। श्वसन संबंधी गंभीर बीमारी में कफ, बुखार और सांस लेने में परेशानी होती है और इसी तरह के लक्षण कोरोना में भी दिखाई देते हैं। ऐसे में श्वसन संबंधी गंभीर बीमारी के हर मरीज की कोरोना जांच की जा रही है। हालांकि अब तक इस बीमारी के 1.8 फीसदी लोगों में ही कोरोना पाया गया है। डॉ मेश्राम ने बताया कि सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल में नागपुर समेत विदर्भ के श्वसन संबंधी गंभीर बीमारी के मरीजों को कोरोना होने और उसके प्रभावों पर जल्द अध्ययन शुरू करने की योजना है।

कमेंट करें
JpR0S