comScore

भृष्टाचार करने वाले सरपंच, सचिव व इंजीनियर से होगी वसूली , पद से हटाया

भृष्टाचार करने वाले सरपंच, सचिव व इंजीनियर से होगी वसूली , पद से हटाया


 डिजिटल डेस्क छिंदवाड़ा/परासिया । ब्लाक परासिया की पंचायत भाजीपानी के सरपंच मनीष सोनू यादव के खिलाफ मप्र पंचायत राज और ग्राम स्वराज अधिनियम की धारा 40 के तहत कार्यवाही कर पद से हटा दिया गया। आगामी छह साल तक चुनाव लडऩे पर प्रतिबंध लगाया गया है। मनीष यादव पर भ्रष्टाचार और नियमों की अनदेखी कर पंचायत राशि का दुरूपयोग करने के आरोप पर जांच कार्रवाई के बाद यह आदेश जारी हुआ है। 
न्यायालय मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत छिंदवाड़ा द्वारा जारी जपं परासिया के मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा प्रस्तुत प्रकरण में सुनवाई और जांच उपरांत उक्त आदेश जारी किया गया। जपं द्वारा प्रस्तुत प्रतिवेदन में सरपंच मनीष सोनू यादव अपने प्रशासकीय एवं वित्त्तीय संव्यवहारों में घोर अनियमितताएं की गई। ग्राम पंचायत के कार्य को मनमाने ढंग से संपादन किया गया। तालाब निर्माण कार्य में उच्च अधिकारियों के निर्देशों का पालन नहीं किया गया। गुणवत्तापूर्ण कार्य नहीं करवाए गए। 
सरपंच, दो इंजीनियर, तीन सचिवों से वसूल होंगे 11.99 लाख रुपए : 
भाजीपानी पंचायत के भ्रष्टाचार और अनियमितता मामले में सरपंच के अलावा तत्कालीन दो इंजीनियर, एक रोजगार सहित तीन पंचायत सचिवों से 11 लाख, 99 हजार, 668 रुपए वसूल किए जाएंगे। न्यायालय मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत द्वारा जारी आदेश मेें मप्र पंचायत राज और ग्राम स्वराज अधिनियम की धारा 92 के तहत सरपंच मनीष सोनू यादव, इंजीनियर केएल सदाफल और एसआर कोलारे, सचिव रूपेश साहू, सम्पत नागवंशी और राजकुमार कहार से उक्त राशि वसूलने आदेश जारी हुए हैं। जिसके तहत सरपंच मनीष सोनू यादव से 4 लाख, 54 हजार, 258 रु, इंजीनियर केएल सदाफल से 2 लाख, 74 हजार, 788 रु और इंजीनियर एसआर कोलारे से 16 हजार, 364 रु, सचिव रूपेश साहू से 3 लाख, 2 हजार, 876 रु, सचिव सम्पत नागवंशी से 81 हजार, 688 रु,  प्रभारी सचिव पदेन रोजगार सहायक राजकुमार कहार से 69 हजार, 694 रु वसूली होगी। उक्त राशि 15 दिनों के अंदर जिला पंचायत में जमा करना है। आदेश का पालन नहीं होने पर 30 दिनों के लिए सिविल कारागार भेजा जा सकता है, साथ ही उक्त राशि भू- राजस्व के बकाया की भांति वसूली की जा सकती है। 
भाजपा ग्रामीण मंडल अध्यक्ष हैं मनीष यादव : 
भाजपा संगठन के चुराव मेंं गत दिवस पगारा ग्रामीण मंडल अध्यक्ष पर मनीष सोनू यादव निर्वाचित हुए हैं। मनीष सोनू यादव के खिलाफ गत अक्टूबर 2019 से जांच कार्रवाई जारी है। इसी दौरान वे भाजपा मंडल अध्यक्ष भी चुने गए हैं। उनका कहना है कि राजनीतिक द्वेषवश उनके खिलाफ कार्रवाई की गई है। जिला पंचायत छिंदवाड़ा के निर्णय को वे सक्षम न्यायालय में चुनौती देंगे। 
 

कमेंट करें
dG6Jf