comScore

सायरन बजते ही तेजी से भागा गौवंश लेकर जा रहा ट्रक, पहिये पर फायरिंग कर पुलिस ने रोका

सायरन बजते ही तेजी से भागा गौवंश लेकर जा रहा ट्रक, पहिये पर फायरिंग कर पुलिस ने रोका

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  पुलिस ट्रक का पीछा कर रही थी। पुलिस का सायरन लगातार बज रहा था, लेकिन तेज रफ्तार ट्रक चौक-चौराहे, पुलिस थाने के सामने रखे बैरिकेड्स तोड़ते हुए लगातार आगे बढ़ रहा था। आखिरकार पुलिस के वाहन ने ट्रक को ओवरटेक किया और पहिये पर पिस्टल से फायर कर ट्रक की रफ्तार को कम करने में सफल हो गई, लेकिन चालक व उसका साथी ट्रक से कूद कर जंगल में गुम हो गए। यह नजारा फिल्मी नहीं, बल्कि हकीकत है। तस्करों द्वारा मध्यप्रदेश से मवेशियों को ट्रक में लादकर नागपुर की ओर ले जाते समय यह घटना हुई। ट्रक की जांच करने पर पुलिस ने उसमें से 37 जिंदा और 1 मृत गोवंश बरामद किए। जिन्हें बड़ी ही निर्दयतापूर्वक बांध कर रखा गया था। सभी गोवंशों को देख-रेख तथा उपचार के लिए देवलापार के गो अनुसंधान केंद्र भेज दिया गया है।

तेज रफ्तार आ रहा था नागपुर
जानकारी के अनुसार देवलापार के थानेदार प्रवीण बोरकुटे अपने स्टाफ के साथ वाहन से मोरफाटा परिसर में पेट्रोलिंग पर थे। इसी दौरान उन्हें गुप्त सूचना मिली कि, मध्यप्रदेश से एक ट्रक में लादकर मवेशियों को नागपुर ले जाया जा  रहा है। पुलिस तुरंत हरकत में आई और मानेगांव चौक में बैरिकेड्स लगाकर नाकाबंदी की। गुरुवार को सुबह करीब 8.30 बजे एक ट्रक मध्यप्रदेश की ओर से तेज रफ्तार आता दिखाई दिया। वाहन रोकने का इशारा करने पर चालक  बैरिकेड्स उड़ाते हुे नागपुर की दिशा में भागने लगा। 

पहले पिस्टल दिखाकर चालक को वार्निंग दी
चालक को सरकारी पिस्टल दिखाकर ट्रक को रोकने की वार्निंग दी गई, लेकिन चालक ने ट्रक तारसा रोड की ओर रांग साइड में मोड़ दिया। इस तेज रफ्तार ट्रक की सामने से आने वाले वाहनों से कभी भी भिड़ंत हो सकती थी। यहां पुलिस ने सतर्कता दिखाते हुए अपना वाहन ट्रक के पास ले जाकर टायर पर पिस्तौल से फायर कर दिया। टायर में गोली लगने से ट्रक की गति धीमी हो गई। इस बीच ट्रक में सवार आरोपी कूद कर भाग गए और जंगल में गुम हो गए। पुलिस ने  ट्रक को कब्जे में लेकर जांच की तो उसमें 37 जिंदा तथा 1 मृत गोवंश बरामद किए। गोवंश को बड़ी निर्दयतापूर्वक बांध कर रखा गया था। सभी गोवंशों को देख-रेख तथा उपचार के लिए देवलापार के गो-अनुसंधान केंद्र में भेज दिया गया। कार्रवाई को सहायक पुलिस निरीक्षक प्रवीण बोरकुटे, हवलदार रामदास वालके, सचिन डायलकर, उमेश ठवकर, नितेश राठोड़ ने अंजाम दिया। गोवंश 3 लाख 70 हजार तथा ट्रक 15 लाख सहित कुल 18 लाख 70 हजार का माल पुलिस ने जब्त किया है। आगे की जांच देवलापार पुलिस कर रही है।

4 जगह बैरिकेड्स तोड़ कर भागा
पुलिस दल ने वाहन का पीछा शुरू किया, लेकिन ट्रक देवलापार पुलिस स्टेशन के सामने के बैरिकेड्स तोड़ते हुए चालक भाग निकला। खुमारी के टोल नाके पर भी ट्रक से संबंधित जानकारी भेजी गई। टोल नाके के कर्मचारियों व गार्ड्स ने भी ट्रक को रोकने की कोशिश की, लेकिन ट्रक चालक वहां लगी लोहे की रॉड तोड़ते हुए आगे बढ़ गया। ट्रक में बैरिकेड्स के कुछ पार्ट भी फंस गए, बावजूद ट्रक आगे बढ़ते रहा। खुमारी से कुछ दूरी पर आरटीओ चेकपोस्ट से संपर्क किया गया, पर ट्रक चालक वहां के भी बैरिकेड्स उड़ाते हुए आगे बढ़ गया। इस दौरान मेगा फोन से ट्रक को रोकने का हिदायत भी दी गई। आमड़ी के टोल पर भी ट्रक को  रोकने की पुलिस ने कोशिश की, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। ट्रक तेज तेज गति से आगे बढ़ता रहा। सुबह का समय होने से स्कूल बस, ऑटो आदि का आवागमन शुरू हो गया था। पुलिस को यह भी सुनिश्चित करना था कि, वह ट्रक किसी को हानि न पहुंचाए। आखिरकार पुलिस के वाहन ने ट्रक को ओवरटेक किया। 
 

कमेंट करें
Q70Cq