comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

बढ़ रहा क्राईम : अवैध शराब विक्रेताओं की धरपकड़ में तीन धराए, विद्यार्थी और कर्मचारी ने लगाई फांसी

बढ़ रहा क्राईम : अवैध शराब विक्रेताओं की धरपकड़ में तीन धराए, विद्यार्थी और कर्मचारी ने लगाई फांसी

डिजिटल डेस्क, नागपुर। एमआईडीसी और मानकापुर थानांतर्गत विद्यार्थी और कर्मचारी की फांसी लगाने से मौत हो गई। घटनाओं के कारण ज्ञात नहीं हुए, लेकिन  प्रकरणों को लेकर संदेह भी व्यक्त किया जा रहा है। इस बीच प्रकरणों को संबंधित थानों में आकस्मिक मृत्यु के तौर पर दर्ज किया गया है। हिंगना एमआईडीसी स्थित गजानन नगर निवासी मोहम्मद आमिर माेहम्मद रेहमत रजा (19) अभियंत्रिकी का विद्यार्थी था। रविवार की दोपहर एक बजे से रात के आठ बजे के बीच में किसी कारण के चलते आमिर ने घर के छत में लगे लोहे के पाइप को दुपट्टा बांधकर फांसी लगाई है। इससे उसकी मौत हो गई। घटना के दौरान घर में कोई नहीं था। इसी तरह से मानकापुर थाना क्षेत्र के गोधनी स्थित राहत नगर निवासी राजेशसिंह विजयबहादुर सिंह (51) रविवार की रात में जब परिवार के सभी सदस्य गहरी नींद में थे, तभी मौका देखकर राजेशसिंह ने भी रसोई घर में लोहे के एगल में चुन्नी बांधकर फांसी लगाई। इससे उसकी भी मौत हो गई। वह सदर छावनी स्थित मायल कंपनी में कार्यरत था। इस घटना का भी कारण ज्ञात नहीं हुआ है। घटनास्थल से पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें घटना के लिए किसी को भी जिम्मेदार नहीं ठहराने का जिक्र किया हुआ है। घटित प्रकरणों को दर्ज किया गया है, जांच जारी है।

मकान का ताला तोड़कर नकदी व गहने चोरी

वहीं घर को ताला लगाकर पत्नी के साथ बाहर जाते ही अज्ञात चोर ताला तोड़कर नकदी व सोने के गहने सहित करीब 3 लाख 35 हजार रुपए का माल चुरा ले गया। घटना एमआईडीसी बोरी परिसर में हुई। पुलिस सूत्रों के अनुसार एमआईडीसी बोरी थाने से करीब 2 किमी दूर मौजा वटेघाट निवासी किशोर संचेती के घर में चोरी हो गई। उन्होंने पुलिस को बताया कि, गत दिनों वह मकान को ताला बंद कर पत्नी के साथ टाकलघाट गए थे। इसी दौरान अज्ञात चोर उनके घर का ताला तोड़कर नकद 3 लाख और 35 हजार रुपए के गहने चुरा ले गया। संचेती दंपति घर वापस लौटे, तब उन्हें मकान में चोरी होने की बात पता चली। किशोरी संचेती ने एमआईडीसी बोरी में पहुंचकर शिकायत की। पुलिस ने चोरी का मामला दर्ज कर लिया है। मामले की जांच थानेदार विनोद ठाकरे कर रहे हैं। 

अवैध शराब विक्रेताओं की धरपकड़ शुरू, तीन आरोपी पकड़े गए

उधर पुलिस ने अवैध धंधा करने वाले आरोपियों की धरपकड़ शुरू की है। जोन 5 के उपायुक्त निलोत्पल के विशेष दस्ते ने तीन आरोपियों से करीब 75 हजार रुपए का माल जब्त किया गया है। गुप्त सूचना मिलने पर  पुलिस ने दोपहिया वाहन का पीछा किया। वाहन चालक व विनोबा भावेनगर निवासी राजन विजय आष्टीकर (34) को धर-दबोचा। उसकी थैली में  देसी शराब की 144 बोतलें मिली। दोपहिया वाहन व शराब सहित करीब 32,488 रुपए का माल जब्त किया गया है। दस्ते ने ईंट भट्ठी चौक, विनाेबा भावेनगर निवासी  बादल विलास खडसे (21) को गिरफ्तार किया। इससे 10 हजार रु. की 90 बोतल देसी शराब जब्त की गई। कपिलनगर पुलिस ने पाटील ले-आउट, समतानगर निवासी आनंद उर्फ बंटी रमेश नायर (43) को दोपहिया वाहन पर 144 बोतल अवैध शराब सहित करीब 32 हजार रुपए का माल जब्त किया। संबंधित थानों में मामले दर्ज किए गए हैं।

प्रेमी की हत्या का प्रयास

एक मामले में प्रेमिका से मुलाकात करने गए प्रेमी और उसके मित्र को प्रेमिका के रिश्तेदारों ने कमरे में बंद कर पहले बुरी तरह पीटा और उसके बाद दोनों पर ईंट और लकड़ी की बल्ली से हमला कर दोनों की हत्या का प्रयास किया। घायल का नाम आकाश उर्फ गोलू श्रावण सोनटक्के (23), भूगांव और पीयूष नंदकिशोर चरडे (21), परमात्मा नगर, वड़ोदा निवासी है। पीयूष चरडे की शिकायत पर पुलिस ने तीन आरोपियों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है। इस प्रकरण में शामिल आरोपी गजानन चरणदास शेंडे (35), उसका भाई पंकज शेंडे और मित्र दिनेश महतो (28), सावली कामठी निवासी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोप है कि, इन तीनों ने पीयूष और गोलू को एक कमरे में बंद कर बुरी तरह पीटा। जानकारी के अनुसार मौदा थाने से करीब 16 किमी दूर सावली कामठी में गोलू सोनटक्के सोमवार को अपनी प्रेमिका से मिलने अपने मित्र पीयूष को लेकर गया था। प्रेमिका के घर पहुंचने के बाद दोनों मित्र कमरे में बैठकर बात कर रहे थे। इसी दौरान तीनों आरोपियों ने प्रेमिका के सामने ही गोलू और पीयूष की पिटाई शुरू कर दी। किसी तरह आरोपियों की चंगुल से छूटने के बाद गोलू के मित्र पीयूष  चरडे ने मौदा थाने में शिकायत की। पुलिस सूत्रों के अनुसार गोलू की प्रेमिका  के उक्त रिश्तेदारों को उनके प्रेम संबंध की भनक लगते ही उन्होंने गोलू और पीयूष को पकड़ लिया और दोनों की  प्रेमिका के सामने कमरे में बंद कर पिटाई की। आरोपियों के चंगुल से छूटने के बाद गोलू का मित्र पीयूष ने मौदा थाने में आरोपी गजानन शेंडे, पंकज शेंडे और दिनेश महतो के खिलाफ शिकायत की। पुलिस ने तीनों आरोपियों पर मामला दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया है। आरोपियों पर धारा  307, 342, 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है। प्रकरण की जांच मौदा थाने के सहायक पुलिस निरीक्षक काले कर रहे हैं। 


मुंबई के दंपति से पौने चार लाख की ठगी

इसके अलावा मुंबई के एक दंपति को पौने चार लाख रुपए से ठगा गया है। घटित प्रकरण को मेडिकल कालेज नागपुर में प्रवेश दिलाने के नाम पर अंजाम दिया गया है। प्रकरण के उजागर होने से सोमवार को बर्डी थाने में आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। फरियादी मुंबई, बांद्रा पश्चिम निवासी सुनील सोलंकी 47 वर्ष है। सुनील का डेकोरेशन का कारोबार है। वह अपनी पुत्री को डॉक्टर बनाना चाहता था। इस दिशा में वह प्रयास भी कर रहा था। इस बीच 29 जून 2019 को सुनील की पत्नी के मोबाइल पर शुभम पी. सिंह नामक व्यक्ति का फोन आया। शुभम ने उसे बताया कि उसका धरमपेठ में किंगपिन इंन्फो मेडिकोज सर्विसेस नाम से दफ्तर है। उनकी पुत्री का मैनेजमेंट कोटे से एमबीबीएस में दाखिला करा सकता है। साेलंकी दंपति शुभम के झांसे में आ गए। इस बीच वह शुभम से मिलने नागपुर स्थित दफ्तर में भी दो बार आए। तसल्ली होने पर बाद में आरटीजीएस कर शुभम द्वारा बताए गए बैंक खाते में 3 लाख 75 हजार रुपए जमा किए। रकम जमा होने के  बाद से ही शुभम का फोन और दफ्तर दोनों  बंद हैं। जब शुभम से कोई संपर्क नहीं हुआ, तो फरियादी ने शुभम के खिलाफ सीताबर्डी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई थी।  जांच के दौरान धोखाधड़ी होने की पुष्टि होने पर सोमवार को शुभम के खिलाफ उपनिरीक्षक माया भोसले ने प्रकरण दर्ज किया है। जांच जारी है।

कमेंट करें
tdoTG
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।