दैनिक भास्कर हिंदी: खदान में महिला कर्मचारी के साथ सामूहिक दुष्कर्म कर आंख फोड़ी, हालत नाजुक

August 16th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। उमरेड कोयला खदान क्षेत्र अंतर्गत गोकुल कोयला खदान उपक्षेत्र में एक महिला कर्मचारी के साथ ट्रक चालकों ने बाथरूम में ले जाकर रेप किया। इसके बाद पत्थर से हमला कर उसकी आंख फोड़ दी। घायल महिला कर्मचारी को पहले क्षेत्रीय अस्पताल उमरेड ले जाया गया। उसकी नाजुक हालत को देखते हुए नागपुर भेजा गया है, जहां महिला का उपचार जारी है। जानकारी के अनुसार, मध्यप्रदेश के भिलाई की रहने वाली मंजू (बदला नाम) गोकुल खदान में कांटे पर ड्यूटी करती है। वह उमरेड में किराए के मकान में रहती है। उमरेड से गोकुल कोयला खदान लगभग 25 किमी दूर है। 

ड्यूटी के समय अस्थायी बाथरूम में घटना 
बताया जाता है कि ड्यूटी वाली जगह से लगभग 150 मीटर दूरी पर अस्थायी तौर पर बाथरूम बनाया गया है। जब वह बाथरूम में गई तो पीछे सत्कार रोड लाइन के ट्रक (क्रमांक एमएच-17, बीडी-3731) के चालक व सहचालक भी पहुंच गए। आरोपियों ने महिला को बाथरूम में ही पकड़ लिया। महिला के चिल्लाने पर आरोपियों ने उस पर पत्थर से प्रहार किया, जिससे उसकी एक आंख फूट गई है। लगभग आधा घंटे तक वह घटनास्थल पर पड़ी तड़पती चिल्लाती पड़ी रही। आवाज सुनकर खदान के दूसरे कर्मचारी वहां पहुंचे। उसकी हालत को देखते हुए एंबुलेंस से क्षेत्रीय अस्पताल पहुंचाया गया। जानकारी के अनुसार, भिवापुर पुलिस घटनास्थल से दो आरोपियों को पकड़ कर ले गई है। पूछताछ जारी है। घटना से खदान उपक्षेत्र में तनाव का माहौल निर्माण हो गया है।

विधायक सुधीर पारवे पहुंचे
जानकारी मिलते ही कामगार यूनियन नेता महेश गुप्ता, गंगाधर रेवतकर, रिजवान अंसारी, संगीता सिन्हा, आर.के. वर्मा, दीपे पिल्ले आदि घटनास्थल पर पहुंचे। उपक्षेत्रीय उपप्रबंधक से कहा कि इतना दूर अस्थायी बाथरूम बनाए जाने के कारण ऐसी घटना हुई है। विधायक सुधीर पारवे ने भी प्रबंधन समिति पर सवाल उठाए। खदान परिसर में खुलेआम इस तरह से महिला के साथ हुई घटना की सर्वत्र भर्त्सना की जा रही है।

खबरें और भी हैं...