दैनिक भास्कर हिंदी: विजय गाथा बताने दिल्ली से नागपुर पहुंचे दो 'विजयंत', कस्तूरचंद पार्क की बढ़ेगी शोभा

November 7th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। पाकिस्तान और चीन के साथ युद्ध में इस्तेमाल किए गए सेना के दो टैंक कस्तूरचंद पार्क की शोभा में चार चांद लगा देंगे। विजयंत नामक दोनों टैंक जल्द ही कस्तूरचंद पार्क में स्थापित किए जाएंगे। उत्तर महाराष्ट्र व गुजरात सब एरिया सेना मुख्यालय ने हरिटेज कमेटी के पास यह प्रस्ताव भेजा था। मनपा मुख्यालय में हुई हेरिटेज कमेटी की बैठक में प्रस्ताव को मंजूरी दी गई। 

गौरवशाली इतिहास 
भारतीय सेना ने पाकिस्तान और चीन को युद्ध में परास्त करने के लिए विजयंत नाम के टैंक का इस्तेमाल किया था। भारतीय सेना का पराक्रम और युद्ध में दुश्मन को परास्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले सेना के टैंक के इतिहास से पर्यटक और विद्यार्थियों को परिचित कराने इसे कस्तूरचंद पार्क पर रखने का प्रस्ताव सेना के नागपुर स्थित उत्तर महाराष्ट्र व गुजरात सेना मुख्यालय ने हेरिटेज कमेटी के पास भेजा था। हेरिटेज कमेटी ने प्रस्ताव को मंजूरी दी है। 

दिल्ली से नागपुर लाए
विजयंत नामक टैंक दिल्ली स्थित सेना मुख्यालय में सुरक्षित रखे थे। इसे दिल्ली से नागपुर लाया गया है। हेरिटेज कमेटी की मंजूरी मिलने से इसे जल्द ही कस्तूरचंद पार्क में रखा जाएगा। टैंक की देखभाल व दुरुस्ती सेना मुख्यालय करेगा।

जानें विजयंत टैंक के बारे में 
हेवी व्हीकल फैक्टरी (आवड़ी) में निर्मित विजयंत टैंक में गोलाबारी करने की अपार शक्ति के साथ-साथ चौतरफा घूम फिरकर मार करने की क्षमता। इस टैंक में अमेरिका के एम. 60 तथा जर्मनी के लयर्ड टैंकों की तरह की 105 मिमी की गन के साथ-साथ मशीनगन तथा 12.7 एमएम की एंटी एयरक्रॉफ्ट गन भी लगी हुई है।

उत्खनन में मिले ताेप का प्रस्ताव भी
 गत दिनों कस्तूरचंद पार्क में निर्माणकार्य के उत्खनन दौरान चार तोप मिले। पर्यटन की दृष्टि से इसे कस्तूरचंद पार्क में रखने का प्रस्ताव हेरिटेज कमेटी सदस्य अशोक मोखा ने रखा। इस प्रस्ताव को मंजूरी देकर जिलाधिकारी के माध्यम से भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण िवभाग के पास भेजने का निर्णय लिया गया।

जीरो माइल सौंदर्यीकरण प्रस्ताव में संशोधन के निर्देश
नागपुर मेट्रो रेलवे प्रशासन की ओर से जीरो माइल परिसर का सौंदर्यीकरण किया जाएगा। हेरिटेज कमेटी के पास प्रस्ताव भेजा गया। हाईकोर्ट के आदेश के अनुसार बैठक में मेट्रो रेल प्रशासन की ओर से प्रस्तुतिकरण किया गया। इसमें कुछ त्रुटियाें को दुरुस्त कर संशोधित प्रस्ताव अगली बैठक में मंजूरी के लिए पेश करने के निर्देश दिए गए। बैठक में हेरिटेज कमेटी सदस्य तथा मनपा उपायुक्त राजेश मोहिते, सदस्य सचिव तथा मनपा नगररचना विभाग के सहायक संचालक सुनील दहीकर, सुप्रिया थुल, डॉ. तपन चक्रवर्ती,  डॉ. शुभा जोहरी, उज्ज्वला चक्रदेव, वास्तुविशारद अशोक मोखा, उत्तर महाराष्ट्र व गुजरात सब एरिया सेना मुख्यालय के कर्नल राकेश कुमार उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...